सारण

इंटरनेशनल वैश्य फेडरेशन द्वारा मनाई गई नेता जी सुभाष चंद्र बोस की 126वीं जयंती 

 

 

इंटरनेशनल वैश्य फेडरेशन द्वारा मनाई गई नेता जी सुभाष चंद्र बोस की 126वीं जयंती

श्रीनारद मीडिया, पंकज मिश्रा, अमनौर, सारण (बिहार):

website ads
WhatsApp Image 2022-12-28 at 17.44.51
1
३५
२१
previous arrow
next arrow
website ads
WhatsApp Image 2022-12-28 at 17.44.51
1
३५
२१
९
८
७
previous arrow
next arrow


सामाजिक एवं रचनात्मक कार्यों हेतु जाने जानी वाली प्रतिष्ठित संस्था इंटरनेशनल वैश्य फेडरेशन की छपरा इकाई द्वारा नेता जी सुभाष चंद्र बोस की 126वीं जयंती “पराक्रम दिवस” के रूप में मनाई गई, सदस्यों ने नेताजी जी की तैल चित्र पर माल्यापर्ण कर और उनके आदर्शों को याद करते हुए उनकी जयंती मनाई.
इस अवसर पर संस्था के अध्यक्ष आदित्य अग्रवाल ने माल्यार्पण के पश्चात देश हित में नेताजी सुभाष चंद्र बोस द्वारा किये गए विभिन्न योगदान पर प्रकाश डालते हुए कहा कि तत्कालीन विषम परिस्थितियों में जापान जाकर आज़ाद हिंद फौज का गठन नेता जी ने देश को अंग्रेजों से आजाद दिलाने हेतु किया, वास्तविक मायनों में उन्हें देश का प्रधानमंत्री होना चाहिए था, आज उनकी जयंती पर उन्हें नमन करते हुए सभी सदस्य उनके बलिदान को पराक्रम दिवस के रूप में मना रहे हैं.
संस्था के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं वरीय अधिवक्ता गंगोत्री प्रसाद ने अपने संबोधन में कहा कि नेता जी का जन्म 23 जनवरी 1897 को हुआ था, उनकी कार्यप्रणाली तत्कालीन सभी सेनानियों से अलग और विशिष्ट बनाती है, देश हित मे उनका बलिदान और आज़ादी की लड़ाई हेतु उनकी दूरदर्शिता दोनों आदरणीय हैं.

उक्त अवसर पर मुख्य रूप से इंटरनेशनल वैश्य फेडरेशन के अध्यक्ष आदित्य अग्रवाल, सचिव सुधाकर प्रसाद, कोषाध्यक्ष संतोष ब्याहुत, प्रदेश उपाध्यक्ष गंगोत्री प्रसाद, गोविंद ब्याहुत, राजीव ब्याहुत, अजन्ता कुमारी, डॉ राजेश डाबर, विशाल ब्याहुत सहित अन्य लोग उपस्थित हुए.
धन्यवाद ज्ञापन सेक्रेटरी सुधाकर प्रसाद ने किया.

यह भी पढ़े

दरियापुर प्रखंड के नाथा छपरा और दरियापुर पंचायत को सौंपी गई एम्बुलेंस की सेवा 

मशरक  की खबरें :   पिपलेश्वर नाथ मंदिर परिसर में कलश यात्रा के साथ 23 वां वार्षिक अखंड अष्टयाम शुरू

रेल मंत्रालय ने किया बड़ा ऐलान,  ऐप से टिकट बुक करने की तय की गयी दूरी में किया इजाफा

नंबर-1 बना भारत:तीसरे मैच में न्यूजीलैंड को 90 रन से हराया

Raghunathpur: प्रखंड स्तरीय दक्ष खेल प्रतियोगिता-2023 का हुआ आयोजन

फ्लाइट में एयर होस्टेस के साथ बदसलूकी करने वाला आरोपी गिरफ्तार

क्या जलवायु परिवर्तन से निपटने में भारत यूरोप से बेहतर कदम उठा रहा है?

नम आंखों से बरसते रहे दोन के कर्मयोगी के प्रति श्रद्धा के सुमन!

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!