आखिर कब तक अंधेरे में रहेगा पीएम का आदर्श गांव डोमरी?

आखिर कब तक अंधेरे में रहेगा पीएम का आदर्श गांव डोमरी?

@ पीएम के गोद लिए गांव में पिछले 7 घंटे से कटी है बिजली

श्रीनारद मीडिया ब्यूरो प्रमुख / सुनील मिश्रा वाराणसी (यूपी)

वाराणसी / कहने को तो प्रधानमंत्री के आदर्श गांव में आम जनता को सभी सुविधाएं देने के लिए अधिकारी और प्रशासन प्रतिबद्ध रहता है पर विडंबना यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गोद लिए डोमरी की जनता अंधेरे में जीने को मजबूर है।आए दिन यहां हो रही बिजली की भारी कटौती से लोग बिलबिलाने पर मजबूर हैं।कोई ऐसा दिन नहीं जब कोई न कोई कारण से घण्टों बिजली ना कटती हो। आज बुधवार को शाम 5:00 बजे से बिजली कटी है रात के 12:00 बज रहे हैं लेकिन अभी तक बिजली का कोई अता पता नहीं। शाहुपुरी विद्युत उपकेंद्र पर फोन करने पर जेई का नंबर स्विच ऑफ बता रहा है। यह कोई आज का मामला नहीं है जब भी कोई लाइट को लेकर दिक्कत होती है तो जेई अपना मोबाइल स्विच ऑफ कर देता है। कहने को तो डोमरी प्रधानमंत्री का आदर्श गांव है पर यहां आज भी बांस बल्ली के सहारे बिजली के नंगे तार फैले हुए हैं बिजली विभाग की लापरवाही का आलम यह है कि एक लाइनमैन को भी बुलाने के लिए लोगों को कई घरों से पैसा देना पड़ता है।कटी लाइट की वजह से उमस भरी गर्मी में लोग घर के बाहर कुर्सियां लगाकर बैठे हैं। लाइट आने की कोई आसार नहीं दिख रहे ऐसे में पूरी रात मच्छरों के बीच घर के बाहर बिताना पड़ेगा, ऐसा जान पड़ता है। वहीं बिजली ना होने से लोगों के घरों का मोटर नहीं चल पा रहा है पानी की भी समस्या है।जनता जाग रही है और विभाग के अधिकारी सो रहे हैं।यह है जमीनी हकीकत प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र और उनके गोद लिए गांव की।

Leave a Reply