कहीं सब्जी के नाम पर ‘जहर’ तो नहीं खा रहे हैं ?

कहीं सब्जी के नाम पर ‘जहर’ तो नहीं खा रहे हैं ?

श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क

कहते हैं कि अच्छी सेहत के लिए फल और सब्जियों का सेवन जरूर करना चाहिए, लेकिन बाहरी दिल्ली के कई गांवों के लोग सब्जियों के नाम पर ‘जहर’ की पैदावार कर रहे हैं। ये लोग खेतों के पास से गुजर रहे ऐसे नाले (मुंगेशपुर ड्रेन) से पानी लेकर सब्जियों की सिंचाई करते हैं, जोकि पूरी तरह से जहरीला है। फैक्ट्रियों से निकलने वाला बेकार पानी इन नालों में बहाया जाता है, जिसमें खतरनाक रासायनिक तत्व घुले होते हैं। खास बात यह है कि इन सब्जियों को उगाने वाले इसके जहरीले प्रभाव से भलीभांति वाकिफ हैं। इस कारण इन सब्जियों का सेवन ये खुद नहीं करते बल्कि इन्हें सीधे मंडियों में बेच देते हैं।

सब्जियों में होते हैं घातक तत्व

हरियाणा बॉर्डर से सटे मुंगेशपुर, कुतुबगढ़, पंजाब खोड़ समेत दर्जनों गांवों में सब्जियां उगाई जा रही हैं। कृषि विज्ञानियों के अनुसार, रसायन युक्त पानी से उगने वाली सब्जियों में लेड, सल्फर और निकल जैसे घातक तत्व होते हैं। ये सब्जियां लोगों को धीरे-धीरे गंभीर बीमारियों का शिकार बना सकती हैं। विज्ञानियों ने यहां से कुछ सैंपल भी जांच के लिए इकट्ठा किए हैं।

बारिश के पानी की निकासी के लिए बनाया था नाला

बारिश के पानी व गांवों के गंदे पानी की निकासी के लिए वर्षो पूर्व यह नाला बनाया गया था। यह हरियाणा से निकलकर दिल्ली के कई इलाकों से होकर गुजरता है।

फैक्ट्रियों से छोड़ा जा रहा रसायनयुक्त पानी

कुतुबगढ़ गांव निवासी देवेंद्र राणा ने बताया कि हरियाणा के खरखौदा के फिरोजपुर व मुंगेशपुर गांव की फैक्ट्रियों का रसायनयुक्त पानी इस ड्रेन में छोड़ा जा रहा है। आसपास के गांव के लोग इस प्रदूषित पानी को सिंचाई के लिए इस्तेमाल करते हैं। ऐसे में अनाज, फल व सब्जियों के रूप में लोगों के शरीर में घातक रासायनिक तत्व पहुंच रहा है। इससे भूमिगत पानी भी प्रदूषित हो रहा है। इसके अलावा फैक्ट्रियों की गंदगी भी नाले में ही डाली जा रही है। इस बारे में कई बार शिकायत की गई, लेकिन कोई समाधान नहीं हुआ।

रसायन युक्त पानी से उगाई गई सब्जियों को खाने से लोगों को बदहजमी, आंखों से संबंधित बीमारियां, चर्म रोग, श्वांस रोग, आंत व पेट से संबंधित रोग के अलावा कैंसर जैसी गंभीर बीमारी भी हो सकती हैं। लोगों को ऐसी सब्जियों का सेवन नहीं करना चाहिए।

Rajesh Pandey

Leave a Reply

Next Post

2005 से पहले अफ्रीकी देशों से भी खराब  थी बिहार की हालत-उपमुख्यमंत्री

Tue Sep 22 , 2020
2005 से पहले अफ्रीकी देशों से भी खराब  थी बिहार की हालत-उपमुख्यमंत्री * नरेन्द्र मोदी की मदद और नीतीश कुमार की अगुवाई में बिहार का विकास अब रूकेगा नहीं श्रीनारद मीडिया‚ पटना  (बिहार): बिहार सरकार के सात विभागों की अनेक योजनाओं के उद्घाटन,शिलान्यास के लिए आयोजित वचुअल समारोह को सम्बोधित […]
error: Content is protected !!