104 साल की उम्र में भी जनकल्याण की भावना से वैद्य जी लोगों के असाध्य रोगों का कर रहे निवारण

104 साल की उम्र में भी जनकल्याण की भावना से वैद्य जी लोगों के असाध्य रोगों का कर रहे निवारण

श्रीनारद  मीडिया,  हरियाणा डेस्क – वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक ( छाया – शिवांग दत्त शर्मा )

हरियाणा कुरुक्षेत्र :- वैद्य शादी राम जी अमीन गाँव की पहचानों में से एक हैं। फिलहाल इनकी आयु 104 साल से ऊपर है, हालाँकि वो ठीक से बता नहीं पा रहे हैं। अभी भी अपने गाँव फतुहपुर से अमीन रोज़ आते हैं और बीमारों को देखते हैं। नब्ज़ के बहुत विख्यात जानकर हैं, अपनी दवाएँ स्वयं बनाते हैं। इन्होंने अपनी वैद्यक की 4 साल की पढ़ाई, आयुर्वेद ऋषिकेश से 1940 के आसपास की थी। इस उम्र में थोड़ा ऊँचा जरूर सुनते हैं पर वैसे पूरी तरह स्वस्थ और क्रियाशील हैं।
हमने इनसे अमीन गाँव के नामकरण, 1947 के ग़दर , बतौर संगीत मण्डली इनके कार्य जैसे कई विषयों पर बातचीत की है।
बहुत साधारण कुटिया है जहाँ अपना वैद्यक का ये अपना कार्य पिछले 70 साल से करते आ रहे हैं और पिछले 70 साल से इन्होंने नमक का भी सेवन नही किया है।

Leave a Reply