बिहार में मुंगेर के तौफिर गंगा घाट पर बड़ा हादसा, सात बच्चे डूबे, तीन लापता.

बिहार में मुंगेर के तौफिर गंगा घाट पर बड़ा हादसा, सात बच्चे डूबे, तीन लापता.

पीरदमड़िया घाट पर गंगा में डूबे पिता-पुत्र.

श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क

बिहार के मुंगेर में सदर प्रखंड की मय पंचायत में बुधवार को दुर्गा पूजा का उत्सवी माहौल गम में बदल गया। तौफिर गंगा घाट पर स्नान करने के दौरान सात बच्चे डूब गए। इनमें से चार बच्चों को स्थानीय लोगों की तत्परता से बचा लिया गया, लेकिन तीन बच्चे लापता हैं। बच्चों को खोजने के लिए एसडीआरएफ की टीम घाट पर पहुंची है और लगातार खोज कर रही है। एसडीआरएफ की टीम के साथ स्थानीय गोताखोर जितेंद्र साहनी एवं उनके साथी बच्चों को खोजने के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं।

डूबने वाले तीनों बच्चों में मय पंचायत के सिकंदरपुर निवासी चंद्रशेखर यादव का 12 वर्षीय पुत्र आदित्य कुमार, ललन साह का आठ वर्षीय पुत्र प्रेम कुमार एवं विक्रम शाह का छह वर्षीय पुत्र राकेश कुमार शामिल है।  ग्रामीणों ने बताया कि आदित्य कुमार अपने पिता का एकमात्र पुत्र है। जबकि, प्रेम कुमार एवं राकेश कुमार आपस में चचेरे भाई हैं। दुर्गा पूजा के शुभ अवसर पर बच्चों के इस तरह डूब जाने से पूरे गांव का माहौल गमगीन हो गया है। ग्रामीण दुख में डूबे हुए हैं।

WhatsApp Image 2020-07-09 at 15.09.10
website ads
WhatsApp Image 2021-10-09 at 07.44.49
1
mira devi
rameshwar singh
meghnath prasad
arbind singh
kiran devi
WhatsApp Image 2021-10-25 at 06.46.32
previous arrow
next arrow
WhatsApp Image 2020-07-09 at 15.09.10
website ads
WhatsApp Image 2021-10-09 at 07.44.49
1
mira devi
rameshwar singh
meghnath prasad
arbind singh
kiran devi
WhatsApp Image 2021-10-25 at 06.46.32
previous arrow
next arrow

मालसलामी थाना क्षेत्र के परदमड़िया घाट पर बुधवार की सुबह पिता और पुत्र गंगा नदी में डूब गए। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस गोताखोरों व एनडीआरएफ की मदद से शवों की तलाश में जुटी है। देर शाम तक दोनों का पता नहीं चल सका है। बुधवार की सुबह सीढ़ी घाट के रहने वाले 40 वर्षीय संजय कुमार चौरसिया 15 वर्षीय बेटा कृष कुमार के साथ पीरदमड़िया घाट पहुंचे। जहां संजय मिट्टी लेने लगे और कृष नहाने के लिए गंगा में उतरा।

नहाने के दौरान ही कृष गहरे पानी में डूबने लगा। बेटा को डूबता देखकर संजय उसे बचाने के लिए गहरे पानी में चले गए, जहां दोनों डूब गए। पिता पुत्र को डूबता हुआ देखकर स्थानीय लोग शोर मचाने लगे और घटना की सूचना पुलिस को दी। मालसलामी पुलिस ने तत्काल गोताखोरों को दोनों की तलाश में लगाया। लेकिन घंटों सर्च ऑपरेशन के बावजूद दोनों का पता नहीं चल सका है।

मौके पर पहुंचे स्थानीय पार्षद विनोद कुमार की पहल पर एनडीआरएफ के द्वारा भी घंटों तलाशी ली गयी। लेकिन पिता पुत्र का पता नहीं चल सका। पुलिस का कहना है कि गुरुवार को फिर से दोनों की तलाश की जाएगी। संजय मशाला की फेरी कर परिवार का भरण पोषण करता था। उसकी दो बेटियों में कृष एकमात्र पुत्र था। घटना की जानकारी होते ही संजय की पत्नी संध्या बेसुध होकर गिर पड़ी। घटना से इलाके में भी कोहराम मचा है।

 

Rajesh Pandey

Leave a Reply

Next Post

दर्जनों सीरियल के निदेशक स्क्रीन रायटर रहे अरुआं निवासी कमलेश कुंती सिंह के निधन पर शोक

Thu Oct 14 , 2021
दर्जनों सीरियल के निदेशक स्क्रीन रायटर रहे अरुआं निवासी कमलेश कुंती सिंह के निधन पर शोक श्रीनारद मीडिया, एम सावर्ण, भगवानपुर हाट, सिवान (बिहार): सीवान जिले के भगवानपुर हाट थाना क्षेत्र के अरुआं गांव निवासी मैनेजर सिंह के पुत्र और छोटे पर्दे पर दर्जनों सीरियल के निदेशक एवं स्क्रीन रायटर […]
error: Content is protected !!