C.B.S.E (केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड) :- जाने क्या है 12वीं कक्षा का नया एग्जाम पैटर्न

C.B.S.E (केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड) :- जाने क्या है 12वीं कक्षा का नया एग्जाम पैटर्न

०१
WhatsApp Image 2023-11-05 at 19.07.46
PETS Holi 2024
previous arrow
next arrow
०१
WhatsApp Image 2023-11-05 at 19.07.46
PETS Holi 2024
previous arrow
next arrow

जाने कैसा होगा क्वेश्चन पेपर।

श्रीनारद मीडिया‚ कमलेश प्रसाद गुप्ता‚ सीवान (बिहार)

C.B.S.E (केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड):-12वी बोर्ड परीक्षा के लिए संशोधित एग्जाम डेटशीट जारी की है। अब 12वीं की परीक्षाएं 4 मई 2021 से 14 जून तक होंगी। वहीं बदलाव के बाद भौतिक विज्ञान,रसायन विज्ञान,गणित, जीव विज्ञान,इकोनॉमिक्स और बिजनेस स्टडीज की परीक्षाएं क्रमश: 8 जून, 18 मई, 31 मई, 24 मई, 25 मई और 12 मई को आयोजित होगी। विषयों के एग्जाम पैटर्न में हुए बदलावों को विस्तृत रूप से जानेंगे। C.B.S.E (केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड) ने विषयों की तैयारी करने के लिए सैंपल पेपर भी अपने वेबसाइट पर उपलब्ध करा रहा हैं।12वीं कक्षा के छात्रों के लिए परीक्षा की दृष्टि से यह खबर अत्यंत महत्वपूर्ण है।

भौतिक विज्ञान(PHYSICS)  सी.बी.एस.ई ने सत्र 2020-21 के प्रश्नपत्र में एक नया सेक्शन जोड़ा है। जिसमे चार अंकों के केस-स्टडी पर आधारित दो सवाल पूछे जाएंगे। वहीं सेक्शन-ए यानी वैरी शॉर्ट आंसर क्वेश्चन में असर्शन-रीजन को जोड़ा गया है। जिसमें प्रत्येक सही उत्तर के लिए एक अंक दिया जाएगा। इस बार कुल प्रश्नों की संख्या 37 से घटाकर 33 कर दी गई है।

रसायन विज्ञान(CHEMISTRY)  के प्रश्नपत्र में ऑब्जेक्टिव सवालों की संख्या 20 से घटाकर 16 कर दी गई है। इस तरह कुल सवालों की संख्या घटकर 33 हो जाएगी। ऑब्जेक्टिव सेक्शन में इस साल (2020-21) में दो पैसेज पर आधारित सवाल भी पूछे जाएंगे। प्रत्येक सवाल के 4 उप-भाग होंगे। हर उप-भाग के लिए एक अंक निर्धारित किया गया है।

गणित (मैथेमैटिक्स) – सत्र (2019-20) में मैथेमैटिक्स के क्वेश्चन पेपर को चार सेक्शन -A, B, C और D में बांटा गया था। इस सत्र (2020-21) के प्रश्नपत्र में केवल दो सेक्शन – A और B में विभाजित किया गया है। पहले भाग में 24 अंक के ऑब्जेक्टिव प्रश्न और दूसरे भाग में 56 अंक के सब्जेक्टिव (वर्णनात्मक सवाल) पूछे जाएंगे। इस सत्र में दो केस-स्टडी बेस्ड प्रश्नों के जुड़ने के कारण कुल प्रश्नों की संख्या 36 से बढ़कर 38 हो गई है।

BIOLOGY (बायोलॉजी)- पिछले सत्र (2019-20) में कुल 27 सवाल पूछे गए थे, वहीं इस सत्र में (2020-21) कुल प्रश्नों की संख्या बढ़ाकर 33 कर दी गई है। सेक्शन-A में एक अंक के सवालों में केस-स्टडी बेस्ड दो सवालों को ऐड किया गया है। इन सवालों में से प्रत्येक सवाल के पांच भाग होंगे, जिसमें से चार का ही उत्तर देना होगा। इस तरह प्रत्येक भाग के लिए 1 अंक रखा गया है।

अर्थशास्त्र (इकोनॉमिक्स)- सी.बी.एस.ई द्वारा इस विषय में भी संशोधन किया है, अबकि साल (2020-21) प्रश्नपत्र में दो केस-स्टडी के आधार पर प्रश्न जोड़े गए हैं। मैक्राे-इकोनॉमिक्स में एक और इंडियन इकोनॉमिक्स डेवलपमेंट वाले भाग में एक प्रश्न होगा। पेपर पैटर्न में कोई खास बदलाव नहीं किया गया है।

बिजनेस स्टडीज – इस सत्र में प्रश्नोत्तर के लिए शब्द सीमा तय कर दी गई है। तीन, चार और छह अंकों के सवाल के लिए क्रमश: 50 से 70, 150 और 200 शब्दों में उत्तर देना होगा। सत्र (2019-20) में एक, तीन, चार, पांच और छह अंकों के कुल 34 प्रश्न पूछे जाते थे। वहीं इस बार केवल एक, तीन, चार और छह अंकों के प्रश्न ही पूछे जाएंगे। इस सत्र में कुल प्रश्नों की संख्या 34 ही रहेगी। केवल चार और छह अंकों वाले क्वेश्चन की संख्या बढ़ा दी गई है। पाँच अंको वाले सवाल इस सत्र में नही पूछे जाएंगे।
ऑफिसियल वेब साइट से सैंपल पेपर डाउनलोड कर सकते है।

 

यह भी पढ़े

बहन के प्रेम विवाह से नाराज भाई ने की जीजा की निमर्मता से हत्‍या.

 तीन दिवसीय चौथा राष्ट्रीय भोजपुरी महोत्सव भगवानपुर में‚ तैयारी पूरी 

क्या जीएसटी लगने से सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल के दाम?

बिहार में भाई ही बना भाई का दुश्मन,पीट-पीटकर कर दी हत्या.

Leave a Reply

error: Content is protected !!