मुख्‍य सचिव ने वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के माध्‍यम से सभी जिलाधिकारियों के साथ किया सुखाड़ व पेयजल समस्‍या की समीक्षा

मुख्‍य सचिव ने वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के माध्‍यम से सभी जिलाधिकारियों के साथ किया सुखाड़ व पेयजल समस्‍या की समीक्षा

श्रीनारद मीडिया, राकेश सिंह, स्‍टेट डेस्‍क:

मुख्य सचिव बिहार के द्वारा वीडियो काॅन्फ्रेसिंग के माध्यम से वर्तमान मे सुखाड़ की स्थिति, पेयजल की समस्या एवं एन.जी.टी से संबंधित मामलो की समीक्षा सभी जिलाधिकारी के साथ की गई एवं महत्वपूर्ण निदेश दिए गए। जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन के द्वारा बताया गया कि जिला मे औसत भूगर्भ जलस्तर 22.5 फीट है। पीने की पानी की समस्या वर्तमान मे नही है परन्तु कुछ प्रखण्डों माँझी मढ़ौरा, जलालपुर नगरा आदि के कुछ स्थानों पर प्रतिवेदित समस्या के निराकण के लिए वाटर टैकर के माध्यम से जलापुर्ति की व्यवस्था की गई है। मार्च 2019 तक आपदा प्रबंधन मद से 100 नये चापाकल के लक्ष्य के विरूद्ध 100 चापाकल गाड़ा गया है इसके अतिरिक्त 14 नये चापाकल गाड़े गए है। इस संबंध मेें 24 घण्टे नियंत्रण कक्ष 06152-244791 पर कार्यरत है। जिलाधिकारी ने बताया कि चापाकल मरमति कार्य के लिए 9 गैंग 4 खलासी मिस्त्री सहित भ्रमणशील है। मुख्य सचिव के द्वारा निदेश दिया गया कि वैसे सभी पंचायतो को चिन्ह्ति किया जाए जहाँ औसत जल स्तर 20.25 फीट से अधिक है और वहाँ आवश्यक योजना तैयार कर कार्यवाही की जाए। उनके द्वारा कहा गया कि जल समस्या के निराकरण मे आचार संहिता बाधक नही है। इसके अतिरिक्त एन.जी.टी. से संबंधित मामलो में कचरा प्रबंधन, पंचायतों में कचरा के डोर टू डोर उठाओ एवं डिस्पोजल तथा ठोस कचरा प्रबंधन के संबंध में कार्यवायी का निदेश दिया गया। वीडियो काॅन्फ्रेसिंग में जिलाधिकारी के साथ उपविकास आयुक्त अपसमहार्ता, अपर समहार्ता विभागिय जाँच सिविल सर्जन, कार्यपालक अभियंता पी.एच.इ.डी, लघु सिंचाई, एवं नगर आयुक्त उपस्थित थे।

तेजपुरवा में पानी के लिए मचा हाहाकार

श्रीनारद मीडिया, राकेश सिंह, स्‍टेट डेस्‍क:

मढौरा :- प्रखंड क्षेत्र के तेजपुरवां गांव स्थित वार्ड संख्या दस के सैकड़ों परिवारों में पानी के लिए हाहाकार मची हुई है। स्थिति ऐसी बनी है कि पीने के पानी के साथ साथ स्नान करने के लिए लोगों को गांव से बाहर रेलवे स्टेशन पर लगे एक चापाकल पर पानी के लिए झगरे करने पड़ते हैं। बताते चलें कि यहां मुख्यमंत्री की महत्त्वाकांक्षी नल जल योजना का शुभारंभ नहीं किया गया है। गांव में एक भी सरकारी चापाकल नहीं है। दरवाजे पर लगे सभी निजी चापाकल भीषण गर्मी के कारण सुख गये हैं। इन चापाकलों से पानी निकलना बंद हो गया है। गर्मी से वाटर लेवल नीचे होने की वजह से सभी चापाकल बेकार हो गये हैं। तेजपुरवां हाल्ट स्टेशन का यह चापाकल भी अब कम पानी दे रहा है। जिससे लोगों को पानी की चिंता सताने लगी है। स्टेशन पर ही गांव वाले स्नान करते हुए नजर आ रहे हैं। इस संबंध में बीडीओ अमरेश कुमार ने बताया कि लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग को जांच कर कार्रवाई शुरू करने के लिए कहा गया है।

अमरिका में रह रहे युवक का जमीन का मुआवजा फर्जी तरीके से लिया

श्रीनारद मीडिया, राकेश सिंह, स्‍टेट डेस्‍क:

सोनपुर : चालीस साल से अमेरिका में नौकरी करने के बाद जब अपने गाँव थाना सोनपुर के ग्राम-भरपुरा निवासी ईश्वर दयाल प्रसाद लौटे तो देखे कि उनके अपने चाचा अम्बिका प्रसाद ने उनके हिस्से की जमीन धोखा धड़ी करके अपने नाम करा लिए हैं और उनके पिता के नाम की जमीन जो सोनपुर दीघा पुल निर्माण में पड़ा उसका भी मुआवजा भू-अर्जन कर्मचारी लक्ष्यमेन्द्र प्रसाद श्रीवास्तव के साथ मिलकर उठा लिए और रेलवे में अवैध तरीके से पिंटु कुमार गुप्ता ने नौकरी भी ले ली। वादी ने कुल 11 लोगो को आरोपी बनाया है। कोर्ट ने जाँच के लिए एसीजे एम-6 के न्यायालय मे भेज दिया है।

Leave a Reply