पाकिस्तान में आतंकियों से डरे चीनी कर्मचारी, AK-47 लेकर कर रहे काम

पाकिस्तान में आतंकियों से डरे चीनी कर्मचारी, AK-47 लेकर कर रहे काम

श्रीनारद मीडिया, सेंट्रल डेस्क :

 

पाकिस्तान कितना भी अमन, चैन और शांति की बात करे लेकिन समय-समय पर उसकी पोल अपने आप ही खुल जाती है। सोशल मीडिया पर पाकिस्तान की एक तस्वीर वायरल हो रही है जिसमें चीन का एक इंजीनियर AK-47 लेकर काम कर रहा है। यह तस्वीर ऐसे समय में सामने आई है जब हाल ही में पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में एक यात्री बस में हुए विस्फोट के चलते नौ चीनी इंजीनियरों समेत 13 लोगों की मौत हो गई।

दरअसल, पाकिस्तान में काम कर रहे चीनी कर्मचारियों की AK-47 के साथ कई तस्‍वीरें वायरल हुई हैं। ये तस्वीरें चाइना पाकिस्तान इकॉनोमिक कॉरिडोर (CPEC ) के साइट की हैं। जब से चीनी कर्मचारियों से भरी बस को निशाना बनाया गया तभी से ही चीन के कर्मचारी सतर्क हो गए। और चीन के कर्मचारी खुद अपनी सुरक्षा भी करते नजर आ रहे हैं।

हालांकि एक तथ्य यह भी है कि पाकिस्तान में चीन द्वारा गठित एक स्पेशल सिक्युरिटी डिविजन (SSD) काम करती है, जिसका काम पाकिस्तान में काम कर रहे चीनी नागरिकों को सुरक्षित रखना है। पाकिस्तान पर भी चीनी कर्मचारियों की सुरक्षा का जिम्मा है, इसके बावजूद भी पाकिस्तान में कई जगहों पर चीनी नागरिक असुरक्षा की भावना में रहते हैं।

WhatsApp Image 2020-07-09 at 15.09.10
18
website ads
WhatsApp Image 2021-09-05 at 20.22.19
WhatsApp Image 2021-09-15 at 09.07.56
3
previous arrow
next arrow
WhatsApp Image 2020-07-09 at 15.09.10
18
website ads
WhatsApp Image 2021-09-05 at 20.22.19
WhatsApp Image 2021-09-15 at 09.07.56
3
previous arrow
next arrow

रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्‍तान ने चीनी प्रोजेक्ट और नागरिकों की सुरक्षा के लिए 30 हजार जवानों को तैनात किया है लेकिन फिर भी हमले सामने आ रहे हैं। बस हमले में नौ चीनी इंजीनियरों की मौत हो गई थी। पाकिस्‍तानी सेना के कई जवान भी मारे गए थे। पाकिस्‍तान ने इस हमले को पहले हादसा बताया लेकिन उसे फिर मानना पड़ा कि विद्रोहियों ने यह हमला किया था।

यह घटना ऊपरी कोहिस्तान जिले में उस समय हुई जब बस दसू शहर जा रही थी। मारे गए लोगों में फ्रंटियर कोर के दो जवान और बस चालक भी शामिल हैं। इस घटना के बाद इस प्रोजेक्ट के अंतर्गत होने वाले बांध निर्माण कार्य को स्थगित करने की घोषणा की गई थी. इतना ही नहीं हादसे की जांच के लिए चीन को पाकिस्‍तान पर भी भरोसा नहीं है, उसने चीनी जांचकर्ताओं को भेजा है।

घटना के बाद चीन-पाकिस्तान के बीच होने वाली महत्वपूर्ण बैठक रद्द होने की जानकारी चाइना-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर के प्रमुख मेजर जनरल असीम बाजवा ने दी। बाजवा ने ट्वीट कर कहा,’ सीपीईसी की यह बैठक अब ईद के बाद होगी। CPEC पर जेसीसी-10 की बैठक जो 16 जुलाई 2021 को होने वाली थी, उसे स्थगित कर दिया गया है। जल्द ही एक नई तारीख का एलान किया जाएगा।

यह भी पढ़े

शादी में विवाहिता के साथ दूल्हे ने किया रेप, आरोपी भाई- बहन गिरफ्तार  

सोन नदी किनारे गई किशोरी संग युवक ने किया दुष्‍कर्म

दो पक्षों के बीच विवाद के बाद हुई फायरिंग, एक दुकानदार जख्मी

शिक्षा मंत्री की बड़ी घोषणा- अगस्‍त में खुल जाएंगे 10वीं तक के स्‍कूल

 

 

shrinarad media

Leave a Reply

Next Post

चीन ने बनाया सबसे बड़ा डिटेंशन सेंटर, एक साथ 10 हज़ार कैदियों को रखा जा सकता है

Thu Jul 22 , 2021
चीन ने बनाया सबसे बड़ा डिटेंशन सेंटर, एक साथ 10 हज़ार कैदियों को रखा जा सकता है उइगर मुस्लिमों के लिए चीन ने कई डिटेंशन सेंटर बनाए हैं श्रीनारद मीडिया, सेंट्रल डेस्क : चीन शिनजियांग क्षेत्र के अपने नागरिकों को लगातार टॉर्चर कर रहा है. इसे लेकर रिपोर्ट्स आती रहती हैं […]
error: Content is protected !!