दलबदलुओं का दबदबा, किस राज्य में कितने नेताओं ने बदला दल?

दलबदलुओं का दबदबा, किस राज्य में कितने नेताओं ने बदला दल?

०१
WhatsApp Image 2023-11-05 at 19.07.46
PETS Holi 2024
previous arrow
next arrow
०१
WhatsApp Image 2023-11-05 at 19.07.46
PETS Holi 2024
previous arrow
next arrow

श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क

आधे से अधिक लोकसभा चुनाव संपन्न हो चुका है। अब बाकी तीन चरणों में मतदान होना है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) इस बार 400 पार के नारे के साथ उतरी है। 2014 के बाद से कई दलों के नेताओं ने भाजपा का रुख किया। यही वजह है कि भाजपा ने लोकसभा चुनाव 2024 में पिछले 10 सालों में पार्टी में शामिल होने वाले 106 प्रत्याशियों को टिकट दिया है। पार्टी के 435 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ने वाले भाजपा के 23 प्रत्याशियों ने पिछले 10 सालों में भाजपा का दामन थामा है।

हरियाणा: कांग्रेस से भाजपा में आए ये प्रत्याशी

पिछली बार भाजपा ने हरियाणा की सभी 10 सीटों पर चुनाव जीता था। इस बार भी सभी सीटों पर पार्टी ताल ठोक रही है। यहां भी छह प्रत्याशी पहले दूसरे दलों का हिस्सा थे। अब भाजपा से चुनाव लड़ रहे हैं। भिवानी से भाजपा प्रत्याशी धर्मबीर सिंह, रोहतक से डॉ. अरविंद शर्मा, हिसार से रणजीत चौटाला, सिरसा से अशोक तंवर, गुड़गांव से राव इंद्रजीत सिंह, कुरुक्षेत्र से नवीन जिंदल समेत ये सभी पहले कांग्रेस में रह चुके हैं।

तेलंगाना में भाजपा के 11 प्रत्याशी दूसरे दलों से आने वाले

आंध्र प्रदेश की सभी 25 लोकसभा सीटों पर 13 मई को मतदान हो चुका है। यहां भाजपा-टीडीपी और जनसेना का गठबंधन है। भाजपा छह सीटों पर चुनाव लड़ी। इनमें से पांच प्रत्याशी दूसरे दलों से भाजपा में आए हैं। तेलंगाना में भी भाजपा के 11 प्रत्याशी पहले दूसरे दलों में थे। यहां भी चौथे चरण में मतदान हो चुका है।

पंजाब में सात प्रत्याशी ‘आयातित’

पंजाब में भाजपा के सात प्रत्याशी पहले दूसरे दलों का हिस्सा रहे हैं। मगर मौजूदा समय में पार्टी की टिकट पर चुनाव में ताल ठोक रहे हैं। पंजाब में अंतिम चरण में एक जून को मतदान होना है।

पंजाब में दूसरे दलों से भाजपा में आने वाले नेता

  • लुधियाना से प्रत्याशी रवनीत सिंह बिट्टू
  • जालंधर से प्रत्याशी सुशील कुमार रिंकू
  • पटियाला से उम्मीदवार परनीत कौर
  • फरीदकोट से प्रत्याशी हंसराज हंस
  • संगरूर से प्रत्याशी अरविंद खन्ना
  • फिरोजपुर से प्रत्याशी गुरमीत सिंह सोढी

झारखंड सात, ओडिशा में छह, तमिलनाडु में पांच, महाराष्ट्र में सात, पश्चिम बंगाल में 10, बिहार तीन, कर्नाटक में चार, केरल में दो, राजस्थान, गुजरात, मध्य प्रदेश में दो-दो और बाकी प्रदेशों के चार प्रत्याशियों ने पिछले 10 सालों में भाजपा ज्वाइन की।

इन दिग्गजों ने ज्वाइन की भाजपा

मध्य प्रदेश की गुना सीट से भाजपा प्रत्याशी ज्योतिरादित्य सिंधिया पहले कांग्रेस में थे। पटियाला से चुनाव मैदान में उतरीं परनीत कौर भी 2029 में कांग्रेस की टिकट पर लोकसभा चुनाव जीता था। अब भाजपा से चुनाव मैदान में हैं। पीलीभीत से भाजपा प्रत्याशी जितिन प्रसाद भी कांग्रेस का हिस्सा रह चुके हैं।

झारंखड में हेमंत सोरेन की भाभी सीता सोरेन अब भाजपा की टिकट से दुमका से चुनाव लड़ रही हैं। रवनीत सिंह बिट्टू अबकी बार लुधियाना से भाजपा प्रत्याशी हैं। आप के एकमात्र सांसद रहे सुशील कुमार रिंकू ने भी चुनाव के दौरान भाजपा ज्वाइन की।

Leave a Reply

error: Content is protected !!