बिहार में डीएसपी बाप के एमबीए, एमबीबीएस बेटा और पतोहूं  करते थे शराब के कारोबार 

बिहार में डीएसपी बाप के एमबीए, एमबीबीएस बेटा और पतोहूं  करते थे शराब के कारोबार

गोपालगंज पुलिस शराब की सूचना पर पीछा करती हुई हाजीपुर पहुंच मामले का किया उजागर

श्रीनारदम मीडिया, राकेश सिंह, स्‍टेट डेस्‍क:

बिहार के मुख्यमंत्री अक्सर कहते हैं कि कफन में जेब नहीं होती।परंतु इसका असर पड़ता नहीं दिख रहा है।तभी तो बिहार में शराब तस्करी का एक हाई प्रोफाइल मामला सामने आया है। इस हाई प्रोफाइल मामले का खुलासा तब हुआ जब गोपालगंज के बरौली में पुलिस ने कर्नाटक नंबर की एक एम्बुलेंस को जांच के क्रम में रोका। जब एम्बुलेंस की जांच की गयी तब भारी मात्रा में शराब की खेप मिला जिसे देखकर पुलिस भी हैरान रह गयी। पुलिस ने मौके से एम्बुलेंस के ड्राइवर को पकड़ा।
पूछताछ के दौरान उसने बताया की एम्बुलेंस में शराब की खेप हरियाणा से लेकर वह चला था जिसे हाजीपुर में पहुंचाना था। गोपालगंज पुलिस शराब की सूचना पर पीछा करती हुई हाजीपुर में उस जगह पर पहुंच गयी जहां इस खेप को पहुंचाया जाना था। एम्बुलेंस से बरामद शराब की खेप को देखकर पुलिस भी दंग रह गयी।

website ads
website ads
previous arrow
next arrow
website ads
website ads
previous arrow
next arrow

हाजीपुर नगर थाना के चिकनौटा में शराब तस्करी के तार खंगालती पहुंची गोपालगंज और वैशाली पुलिस उस वक्त हैरान रह गई जब पकड़े गए एम्बुलेंस ड्राइवर ने DSP के MBA बेटे विनीत को अपना सरगना बताया जो कर्नाटक, बेंगलूर में एक मल्टी नेशनल कंपनी में काम करता था। पुलिस ये जान कर भी हैरान रह गई की कुछ दिन पहले ही इसी मकान से विनीत के बड़े भाई और भाभी जो MBBS डाक्टर थी। उन्हें शराब तस्करी मामले में गिरफ्तार किया गया था।

नवम्बर 2021 को हाजीपुर नगर थाने की पुलिस ने इसी मकान से शराब तस्करी का नेटवर्क चलाने के आरोप में  विनीत की MBBS भाभी और भाई विकास को शराब की खेप के साथ पकड़ा था। गिरफ्तार विनीत की भाभी गया मेडिकल कालेज की MBBS की छात्रा थी। जिसे मौके से गिरफ्तार किया गया था। गिरफ्तार मेडिकल छात्रा DSP के बेटे विकास सिंह की पत्नी थी। इस हाई प्रोफ़ाइल फैमिली के मकान में हुई छापेमारी के दौरान बेडरूम से लेकर गैराज तक से शराब की खेप मिला है।

पुलिस ने घर से 2 लग्जरी गाड़ियों सहित 4 गाड़ियां जब्त किया था। जिन्हें शराब की डिलीवरी के लिए इस्तेमाल किया जाता था। पुलिस ने उस वक्त MBA विनीत के भाई और MBBS भाभी को तस्करी के उस मामले में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। लेकिन पुलिस को एक बार फिर से हैरत हुई जब इस हाई प्रोफ़ाइल फॅमिली के फिर से शराब तस्करी करने का खुलासा हुआ। खुलासा हुआ की पूर्व में पकड़े जाने के बावजूद ये हाई प्रोफ़ाइल फैमिली शराब की तस्करी में बदस्तूर लगा हुआ था और डाक्टर भाई भाभी के जेल जाने के बाद MBA विनीत शराब का नेटवर्क संभाल रहा था।

यह भी पढ़े

बिहार को शराबबंदी ने सामाजिक-राजनीतिक स्तर पर उलझा कर रख दिया है, कैसे?

कैसे होती है अस्थमा की बीमारी, क्या हैं निजात पाने के तरीके?

बाबा महेंद्रनाथ धाम पर धूम धाम से मनाई गई परशुराम जयंती

लखनऊ डीएम की संवेदना ने जब बचा ली दो जिंदगियां!

 

shrinarad media

Leave a Reply

Next Post

अटॉर्नी जनरल, सॉलिसिटर जनरल और एडवोकेट जनरल में क्या अंतर है?

Wed May 4 , 2022
अटॉर्नी जनरल, सॉलिसिटर जनरल और एडवोकेट जनरल में क्या अंतर है? श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क देशद्रोह कानून की संवैधानिक वैधता पर सुप्रीम कोर्ट की तरफ से केंद्र से जवाब दाखिल करने को कहा है। कोर्ट में इस मामले की सुनवाई 5 मई को होगी। इस मामले में इससे पहले पेश […]
error: Content is protected !!