आर्थिक एवं मानसिक शोषण के खिलाफ लामबंद होकर कर्मचारियों ने मोर्चा खोला

आर्थिक एवं मानसिक शोषण के खिलाफ लामबंद होकर कर्मचारियों ने मोर्चा खोला

श्रीनारद मीडिया, ब्यूरो प्रमुख – सुनील मिश्रा, वाराणसी (यूपी)

वाराणसी – अग्रसेन महाविद्यालय प्रशासन के खिलाफ कर्मचारियों ने मोर्चा खोल दिया है। कॉलेज प्रशासन द्वारा निरंतर कर्मचारियों एवं चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों का आर्थिक एवं मानसिक शोषण किया जा रहा है जिससे अजीज आकर श्री अग्रसेन कन्या पीजी कॉलेज कर्मचारी कल्याण समिति की आकस्मिक बैठक महाविद्यालय के बुलानाला परिसर में अध्यक्ष बब्बन तिवारी ने बुलायी और प्राचार्या एवं प्रबंधक को अपनी मांग का ज्ञापन दिया।हंगामेदार बैठक का संचालन करते हुए समिति के महासचिव अरविंद पांडेय ने कहा कि समस्त कर्मचारियों को परीक्षा के कार्य प्राचार्या द्वारा सौंप कर करवा लिया जाता है औऱ कंटीजेंसी का पैसा 7 सालों से रोक कर गोलमाल कर दिया गया है जबकि शासनादेश के अनुसार कंटीजेंसी का भुगतान सभी कर्मचारियों को समान रूप से देने का नियम है।
देय अवकाश जो शासनादेश के नियम के अनुसार लेने पर कर्मचारियों के वेतन में कटौती कर दी जाती है।वहीं कर्मचारी भविष्य निधि 15000 रुपए पर कटौती करने के नियम को दरकिनार कर न्यूनतम 6000 रुपये पर काटी जा रही है। जिससे कर्मचारियों के खाते में कम अंशदान कॉलेज द्वारा किया जा रहा।वही सभी चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को प्राचार्या द्वारा इस संबंध में रोज़ कुछ न कुछ बोलकर उत्पीड़ित जाता है जिससे सभी मे दहशत का माहौल है। कर्मचारी कल्याण समिति के अध्यक्ष बब्बन तिवारी ने बताया कि कर्मचारियों का मानसिक एवं आर्थिक उत्पीड़न किसी भी दशा में अब बर्दाश्त नही किया जाएगा। इस संबंध में माननीय जिलाधिकारी महोदय,श्री काशी अग्रवाल समाज के सभापति,उच्च शिक्षा अधिकारी के समक्ष अपनी मांग रखे लेकिन कोई कार्यवाही नही हुई। यदि एक सफ्ताह के अंदर हम लोगों की मांगे पूरी नही की गई तो लोकतांत्रिक प्रक्रिया के तहत कार्यवाही करने के लिए सड़क पर उतरने के लिए बाध्य होंगे और माननीय मुख्यमंत्री से मिलकर महाविद्यालय प्रशासन के खिलाफ कार्यवाही करने का ज्ञापन सौंपा जाएगा। बैठक में स्वागत बब्बन तिवारी संचालन अरविंद पांडेय एवं धन्यवाद श्रीमती कंचन श्रीवास्तव ने दिया।बैठक में श्रीमती अन्विता सिंह,श्रीमती सरोजिनी उपाध्याय,श्रीमती पार्वती,श्रीमती रीता,श्रीमती मीरा,उमा,श्री अजय श्रीवास्तव,श्री विजय श्रीवास्तव,राम नरेश,दिनेश सिंह एवं संजय कुशवाहा,कृष्णमोहन,शिवधनी, चंद्रप्रकाश,प्रमोद सहित लगभग 50 कर्मचारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply