गोपालगंज की खबरे :  जगमलवा गांव में मारपीट में घायल एक अधेड़ की मौत से ग्रामीण भड़क गए

गोपालगंज की खबरे :  जगमलवा गांव में मारपीट में घायल एक अधेड़ की मौत से ग्रामीण भड़क गए

श्रीनारद मीडिया, राकेश सिंह, स्टेट डेस्क :

 

गोपालगंज।थावे थाना क्षेत्र के जगमलवा गांव में मारपीट में घायल एक अधेड़ की मौत से ग्रामीण भड़क गए। आक्रोशित ग्रामीणों ने बेदुटोला के पास एनएच 531 गोपालगंज-छपरा पथ पर अधेड़ का शव रखकर जाम कर दिया। इस दौरान सड़क पर आगजनी कर प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। ग्रामीण आरोपितों को गिरफ्तार करने तथा डीएम व एसपी को मौके पर बुलाने की मांग कर रहे थे। दो घंटे तक हाईवे जाम कर दिए जाने से वाहनों की कतार लग गई। बाद में थानाध्यक्ष विशाल आनंद ने जनप्रतिनिधियों के सहयोग से ग्रामीणों को समझा बुझा कर शांत किया।जगमलवा गांव में 25 जून को दो पक्ष में हुई मारपीट में इस गांव के निवासी 55 वर्षीय अख्तर अली सहित चार लोग घायल हो गए थे। इस घटना के बाद घायलों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती किया गया। जहां घायल अख्तर अली की हालत गंभीर देख चिकित्सकों ने उन्हें गोरखपुर रेफर कर दिया था। गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान शनिवार की शाम घायल अख्तर अली की मौत हो गई। शव गांव लाए जाने के बाद ग्रामीणों का आक्रोश फूट पड़ा। आक्रोशित ग्रामीणों ने रविवार की सुबह बेदुटोला गांव के समीप एनएच 531 पर अधेड़ कर शव रख कर सड़क को जाम कर दिया। इस दौरान ग्रामीण पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते रहे। सूचना मिलने पर पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष विशाल आनंद, एसआई शैलेंद्र कुमार पप्पू, महेंद्र कुमार सिंह को देखकर ग्रामीणों ने नारेबाजी और तेज कर दिया। ग्रामीण आरोपितों को गिरफ्तार करने तथा मौके पर डीएम अरशद अजीज व एसपी मनोज कुमार तिवारी को बुलाने की मांग कर रहे थे। हालांकि दो घंटे तक चले जाम के बाद थानाध्यक्ष ने जगमलवा मुखिया एजाजुल हक, सरपंच सोहराब आलम के साथ ग्रामीणें को समझा कर शांत करा दिया। थानाध्यक्ष विशाल आनंद ने बताया कि अधेड़ की हत्या के मामले में उनके पुत्र इरफान अली ने यूसुफ अली, ताजू अली, दानिश व बचना खातून सहित सात लोगो के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई है। पुलिस आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए छापेमारी अभियान चला रही है सड़क जाम करने वालों में सादिक आलम, नौशाद आलम, अमजद अली, सुहैल अली, हजरत अली, इरफान अली, अहमद आलम, असगरी खातून, सबरुन नेशा, शाहिन परवीन, शबनम खातून, रेहाना खातून, शाहिना परवीन, शम्मा खातून सहित काफी संख्या में ग्रामीण शामिल रहे।

 

उधार में दिए गए रुपए की मांग करने पर पिता-पुत्र को चाकू गोदकर जख्मी कर दिया

श्रीनारद मीडिया, राकेश सिंह, स्टेट डेस्क :

गोपालगंज।नगर थाने के सेमरा गांव में उधार में दिए गए रुपए की मांग करने पर पिता-पुत्र को चाकू गोदकर जख्मी कर दिया गया। जख्मी हरिनारायण व उसके पुत्र सुनील कुमार को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। मामले में हरिनारायण के बयान पर नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। उसने बताया है कि वह अपने गांव के एक व्यक्ति को उधार में पांच हजार रुपए दिया था। रुपए वापस मांगने पर घटना को अंजाम दिया गया। मामले में प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस छानबीन कर रही है।

 

एक युवक की हत्या कर शव को खेत में फेंक दिया

श्रीनारद मीडिया, राकेश सिंह, स्टेट डेस्क :

गोपालगंज।फुलवरिया थाने के श्रीपुर ओपी के गणेश डूमर गांव में एक युवक की हत्या कर शव को खेत में फेंक दिया गया। सोमवार की सुबह युवक का शव खेत में पड़े होने की खबर पूरे इलाके में आग की तरह फैल गई। इसके बाद लोगों की भीड़ घटनास्थल पर जुट गई। ग्रामीणों ने इसकी सूचना श्रीपुर ओपी प्रभारी को दी। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंचकर मामले की छानबीन करने में जुट गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने जुटी भीड़ से शव को पहचानने की बात कही। लेकिन ग्रामीण शव की पहचान नहीं कर सके। शव को पुलिस ने उठाकर पोस्टमार्टम के लिए गोपालगंज सदर अस्पताल में भेज दिया। श्रीपुर ओपी प्रभारी ने बताया कि युवक के पीठ में चाकू से गोदकर बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया है। उन्होंने कहा कि बदमाश युवक की हत्या कहीं और कर साक्ष्य छुपाने के लिए शव को गणेश डूमर गांव स्थित खेत में फेंक दिया है। मामले में स्थानीय चौकीदार के बयान पर हत्या की प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस छानबीन करने में जुट गई है। ओपी अध्यक्ष का कहना है कि पुलिस की टीम युवक की हत्या किसने व क्यों की है। इसके बारे में पता लगा रही है। उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम के बाद युवक के शव को 72 घंटे तक थाने पर उसकी पहचान के लिए रखा जाएगा। शव की पहचान नहीं होने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

 

कुचायकोट प्रखंड मुख्यालय स्थित बाजार में एक साथ छह कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद प्रशासन व स्थानीय लोगों में हड़कंप

श्रीनारद मीडिया, राकेश सिंह, स्टेट डेस्क :

गोपालगंज ।कुचायकोट प्रखंड मुख्यालय स्थित बाजार में एक साथ छह कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद प्रशासन व स्थानीय लोगों में हड़कंप मच गया है। प्रशासन ने बाजार में जानेवाली सड़कों को चारों तरफ से सील दिया है। सीओ उज्जवल कुमार चौबे के नेतृत्व में करमैनी मोड़, भठवा, कुचायकोट के सरकारी पोखरा व पहाड़पुर के तरफ से जानेवाली सड़क को बांस व बल्ले से सील कर दिया गया। बाजार की सभी दुकाने बंद करा दी गईं हैं। पुलिस की क्षेत्र में गश्त बढ़ा दी गयी है। यहां बता दें कि व्यवसायियों ,छोटे दुकानदारें व अन्य लोगों को संक्रमित पाए जाने के बाद उक्त कार्रवाई की गयी है। इनमें से किसी की भी ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है। स्थानीय लोगों में संक्रमण पाए जाने से क्षेत्रवासियों में दहशत का माहौल है।

 

नहर में गिरने से युवक की मौत

श्रीनारद मीडिया, राकेश सिंह, स्टेट डेस्क :

गोपालगंज : नगर थाना क्षेत्र के हरखुआ गांव के समीप खेत की तरफ गया एक युवक नहर में गिर गया। जिससे पानी में डूबने से उसकी मौत हो गई। इस घटना के बाद ग्रामीणों ने नहर में युवक की काफी तलाश किया। लेकिन उसका पता नहीं चल सका। सोमवार की सुबह सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची एनडीआरएफ की टीम ने नहर में दो घंटे तक तलाश करने युवक के शव को बरामद किया। नहर से युवक का शव निकाले जाने के बाद पुलिस ने उसे पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। युवक की मौत से हरखुआ गांव का माहौल गमगीन हो गया है। स्वजनों के चीत्कार से ग्रामीणों की आंखें भी नम हो गईं।बताया जाता है कि हरखुआ गांव निवासी बासुदेव मियां का पुत्र मैनुद्दिन मियां रविवार की देर शाम खेत की तरफ गया था। कुछ देर बाद नहर के किनारे से होकर यह अपने घर लौट रहा था। तभी अचानक पैर फिसलने से युवक नगर में गिर गया। जिससे पानी में डूबने से युवक की मौत हो गई। इस घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने नहर में युवक की काफी तलाश किया। लेकिन उसका पता नहीं चल सका। इसके बाद ग्रामीणों ने सोमवार की सुबह इस घटना की सूचना सीओ विजय कुमार सिंह को दिया। सूचना मिलने पर नगर इंस्पेक्टर प्रशांत कुमार के साथ सीओ मौके पर पहुंच गए। सीओ के बुलाने पर मौके पर पहुंची एनडीआरएफ की टीम ने नहर में दो घंटे तक तलाश करने के बाद युवक का शव बरामद किया। सीओ विजय कुमार सिंह ने बताया कि नहर में डूबे युवक के स्वजन को सरकार की ओर से चार लाख रुपया मुआवजा राशि दी जाएगी।

 

गोपालगंज जिले का दो दो मुख्यमंत्री होने के बाद  विकास नहीं हो सका

श्रीनारद मीडिया, राकेश सिंह, स्टेट डेस्क :

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव का गृह जिला गोपालगंज है। लालू परिवार से दो-दो मुख्यमंत्री इस बिहार को मिले। लगातार 15 वर्षों तक एक ही परिवार का सत्ता बिहार में चलता रहा। लेकिन इसके बावजूद भी गोपालगंज जिले का विकास नहीं हो सका। 15 साल पहले गोपालगंज की सड़कें क्या हुआ करती थीं, अपराध कहां था, जरा इसे भी अपनी जीवन में एक बार उतार लीजिए। उपमुख्यमंत्री श्री मोदी सोमवार को भोरे विधानसभा क्षेत्र के लिए भाजपा की वर्चुअल जनसंवाद रैली को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि विपक्ष लगातार बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग करता रहा है लेकिन विपक्ष यह बात भूल गया है कि जब बैलेट पेपर से चुनाव होता था, तो बिहार में बूथ लूट कर ही सरकार बन जाती थी। लेकिन अब वह दौर नहीं है। जैसे ही वह दौर बदला कि बैलेट पेपर से चुनाव कराने की दुहाई देने वाले लोग सत्ता से बेदखल हो गए। उन्होंने कहा कि हमें कोरोना वायरस के साथ चलना होगा। अभी इस बीमारी की कोई वैक्सीन नहीं बनी है। इसलिए आप खुद को सुरक्षित रख कर ही इससे बच सकते हैं। इसलिए मास्क जरूर पहने. ज्यादा जरूरी हो तभी घर से निकलें। भारत और चीन के विवाद को लेकर उन्होंने कहा कि विपक्ष सवाल पूछने की जगह सरकार के साथ खड़ा हो। हमें अपनी सरकार और अपनी सेना पर गर्व है। इससे पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष विनोद कुमार सिंह, पूर्व विधायक इंद्रदेव मांझी, पूर्व सांसद जनक राम ने डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के चित्र पर माल्यार्पण किया। रैली में अमरेश राय, किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष रत्नेश राय, श्रीप्रकाश मौजूद रहे।

 

 

कोरोना संक्रमण का दायरा दुकानदारों व जिले के मजदूरों तक बढ़ने के बाद प्रशासन सतर्क हो गया

श्रीनारद मीडिया, राकेश सिंह, स्टेट डेस्क :

गोपालगंज : कोरोना संक्रमण का दायरा दुकानदारों व जिले के मजदूरों तक बढ़ने के बाद प्रशासन सतर्क हो गया है। जिलाधिकारी अरशद अजीज ने बगैर मास्क के घरों से बाहर निकलने वालों पर जुर्माना लगाने के आदेश का सख्ती से अनुपालन करने का निर्देश जारी करते हुए आम लोगों को आगाह किया कि यदि व खुद सावधानी नहीं बरते तो गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।

सोमवार को प्रेस वार्ता के दौरान डीएम ने कहा कि प्रशासन की ओर से सैंपल जांच की प्रक्रिया तेज कर दी गई है। जिला मुख्यालय के अलावा प्रखंड मुख्यालय व बाजार में दुकानदारों के बाद मजदूरों के संक्रमित मिलने के बाद कोरोना का संक्रमण समुदाय के स्तर पर फैल सकता है। ऐसे में सभी लोगों को जिम्मेदार नागरिक होने के कारण कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए निर्धारित नियम का पालन करना होगा। उन्होंने कहा कि हाट बाजार में लोगों के संक्रमित मिलने के बाद रैंडम जांच की प्रक्रिया प्रारंभ की गई है। इस जांच में सभी लोगों को शामिल किया जा रहा है। दुकानदारों को भी मास्क व शारीरिक दूरी के नियम का सख्ती से अनुपालन करना होगा। जो लोग मास्क व शारीरिक दूरी के नियम का अनुपालन नहीं करेंगे, उनके विरुद्ध प्रशासनिक स्तर पर सख्त कार्रवाई कर जुर्माना राशि की वसूली की जाएगी। जिले में अबतक 7367 लोगों के सैंपल की जांच की गई है। इनमें से अब भी छह सौ लोगों की जांच रिपोर्ट पेंडिग है।जिलाधिकारी ने बताया कि सोमवार को चार स्थानों पर लोगों के सैंपल जांच के लिए शिविर लगाया गया। इनमें शहर के आंबेडकर चौक के अलावा मीरगंज थाना क्षेत्र के कुसौंधी, कुचायकोट बाजार तथा भोरे व यूपी की सीमा पर लगे भिगारी बाजार में लगाया गया कैंप शामिल है। सोमवार को चार सौ से भी अधिक लोगों का सैंपल प्राप्त कर जांच के लिए भेजा गया।

 

 

युवक की अपराधियों ने हत्या करने के बाद शव को झाड़ियों में फेंक दिया

श्रीनारद मीडिया, राकेश सिंह, स्टेट डेस्क :

गोपालगंज।कुचायकोट थाना क्षेत्र के बंगाल खाड़ गांव निवासी एक युवक की अपराधियों ने हत्या करने के बाद शव को झाड़ियों में फेंक दिया। सोमवार की सुबह चक हसना गांव के समीप युवक का शव झाड़ी में पड़ा देखकर ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया। विरोध में ग्रामीणों ने चक हसना गांव के समीप एनएच 28 को जाम कर दिया। ग्रामीण अपराधियों को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे थे। सदर इंस्पेक्टर सुरेंद्र कुमार तथा कुचायकोट थानाध्यक्ष अब्दुल मजीद ने ग्रामीणों को समझा कर शांत कराया।ग्रामीणों के शांत होने के बाद पुलिस ने युवक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

बताया जाता है कि बंगालखाड़ गांव निवासी शिवबालक यादव का पुत्र 20 वर्षीय बृजेश कुमार पढ़ाई करने के साथ ट्रैक्टर चलाने का काम करता था । रविवार की शाम बृजेश नगर थाना क्षेत्र के धामा पाकड़ गांव निवासी अपने एक रिश्तेदार के घर गया था। रात करीब 11 बजे यह बाइक से अपने घर जाने के लिए निकला। रास्ते में अपराधियों ने युवक की चाकू से चेहरे को गोद कर हत्या करने के बाद शव को चक हसना गांव के पास पुराने कोल्ड स्टोरेज के पीछे झाड़ियों में फेंक दिया। स्वजन पूरी रात युवक के घर लौटने का इंतजार करते रहे। इसी बीच सोमवार की सुबह खेतों में काम करने जा रहे ग्रामीणों ने चक हसना गांव के पास पुराने कोल्ड स्टोरेज के पीछे झाड़ियों में युवक का शव पड़ा देखकर इसकी सूचना पुलिस को दिया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक की शिनाख्त कराया तो उसकी पहचान बृजेश कुमार के रूप में की गई। युवक की हत्या ही जानकारी मिलते ही बंगाल खाड़ के ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया। चक हसना गांव पहुंचे ग्रामीणों ने गांव के समीप एनएच 28 को जाम कर दिया। ग्रामीण अपराधियों को गिरफ्तार करने तथा युवक के स्वजन को मुआवजा देने की मांग कर रहे थे। बाद में मौके पर पहुंचे सदर इंस्पेक्टर सुरेंद्र कुमार तथा थानाध्यक्ष अब्दुल मजीद के अपराधियों को शीघ्र गिरफ्तार कर लेने का आश्वासन देने पर ग्रामीण शांत हो गए। स्वजनों का बयान दर्ज कर पुलिस मामले की जांच कर रही है।

 

एक शादी समारोह में शामिल हुए 72 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई

 

श्रीनारद मीडिया, राकेश सिंह, स्टेट डेस्क :

मामला पटना जिले के पालीगंज इलाके की है. जहां एक शादी समारोह में शामिल हुए 72 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई है. एक साथ इतनी भारी मात्रा में कोरोना मरीज मिलने से इलाके में हड़कंप मच गया है. मिली जानकारी के मुताबिक डीहपाली गांव में बीते 15 जून को शादी थी. काफी धूमधाम से शादी समारोह का आयोजन किया गया था.
इस शादी में सैकड़ों लोग शामिल हुए थे. बाहर से भी कई मेहमान आये हुए थे. दूल्हे के रिश्तेदार भी आये हुए थे. बताया जा रहा है कि दूल्हा दिल्ली में रहता था. हाल ही में वह दिल्ली से पटना लौटा था. 15 जून को शादी के बाद ही अचानक उसकी तबियत ख़राब हो गई. आनन-फानन में उसकी जांच कराइ गई. दूल्हे की तबियत ज्यादा ख़राब होने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया. लेकिन दुर्भाग्य रहा कि शादी के सिर्फ 2 दिन बाद ही 17 जून को ही उसकी मौत हो गई. ग्रामीणों का कहना है कि कोरोना से ही दूल्हे की भी मौत हुई थी. हालांकि आधिकारिक तौर पर इसकी कोई पुष्टि नहीं हुई है, क्योंकि उसकी कोरोना जांच भी नहीं कराई गई थी.
दूल्हे की मौत के बाद हरकत में आई प्रशासनिक टीम ने शादी में शामिल 125 लोगों के स्वाब को जांच के लिए भेजा. स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी ताजा अपडेट में उनमें से 72 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई है. फिलहाल आसपास के सभी मुहल्लों को सील कर दिया गया है.

Leave a Reply