डोरीगंज में महाजाम लगने से ग्रामीण परेशान, पुलिस रही बेखबर

डोरीगंज में  महाजाम लगने से ग्रामीण परेशान, पुलिस रही बेखबर

फोरलेन निर्माण के दौरान धूल उड़ने से ग्रामीण हो रहे रोग के शिकार

श्रीनारद मीडिया, दिलीप पांडेय, डोरीगंज, छपरा (बिहार):

डोरीगंज थाना छपरा के आरा छपरा पुल से लेकर छपरा पटना मुख्यमार्ग तक वुधवार की शाम से लेकर वृहस्पतिवार के सुबह तक महाजाम लगा रहा। आरा छपरा पुल से लेकर छपरा पटना मुख्यमार्ग पर लमहाजाम लगने से आने जाने वाले छोटी वाहन किसी तरह ग्रामीण सङक से अपने घर लौटे, लेकिन स्थानीय पुलिस प्रशासन नजर नही आयी। जिससे आने जाने वाले लोगो को काफी परेशानी झेलनी पड़ी ! स्थानीय ग्रामीण पप्पु कुमार श्वेतांश ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि यहा जाम का दो कारण है पहला यह है कि बिहार के भोजपुर रोहतास पटना से बालू लोडिंग करने घाट से लाल बालू का उठाव होता है जो उतर प्रदेश से लेकर बिहार के सभी बङे वाहन का आवागमन का मात्र एक आरा छपरा पुल है।  दुसरा डोरीगंज थानाक्षेत्र के तीन महुआ के पास छपरा पटना मुख्यमार्ग पर मधुकन कम्पनी के अर्धनिर्माण फोरलेन पर बनी पुलिया के पास बनी मौत का कुआ कभी भी हो सकता है एक बङी हदसा । इस गढे मे छपरा या पटना के तरफ आने जाने वाले छोटे बङे गाड़ी पुलिया के दोनो तरफ गढे होने से कई कार गढे मे गिरने से बम्फर क्षतिग्रस्त हो गया कई ट्रक का गुला टूट गया । कई मोटरसाइकिल सवार अचानक गढे मे गिर कर मोटरसाइकिल सवार को हल्का चोट भी लगी ।लेकिन सारे दिन मधुकन कम्पनी के इंजिनियर व कर्मचारी का आना जाना लगा हुआ है लेकिन इस क्षतिग्रस्त पुलिया के पास गढे नही दिखते अगर यही स्थिति रहा तो छपरा पटना मुख्यमार्ग स्थित तीन महुआ के पास कभी भी बङी हादसा हो सकता है । स्थानीय मुखिया राजेश्वर चौधरी ने कहा कि जब से फोरलेन निर्माण कार्य शुरू हुआ है तब से चिरान्द गाँव से लेकर विशेन टोला तक काफी मात्रा मे सङक निर्माण कम्पनी के अर्धनिर्माण मिट्टी से धूल बनकर स्थानीय लोगो से लेकर छपरा पटना मुख्यमार्ग से आने जाने वाले लोगो को धूल उङने से लोगो को दमा का रोगी बना रहा है। यहा तक की सङक निर्माण कम्पनी पानी पटाना भी बंद कर दिया है ? लेकिन न तो जिला प्रसासन को इसकी परवाह से नही फोरलेन निर्माण करा रहे कम्पनी को स्थानीय लोगो का कहना है आखिर इस लापरवाही का जिम्वार कौन  है।

Leave a Reply