वाराणसी में लगभग 8 हजार शादियों के बीच प्रधानमंत्री के दौरे को संभालना किसी जंग से कम नहीं

वाराणसी में लगभग 8 हजार शादियों के बीच प्रधानमंत्री के दौरे को संभालना किसी जंग से कम नहीं

श्रीनारद मीडिया ब्यूरो प्रमुख सुनील मिश्रा वाराणसी (यूपी)

वाराणसी / एक अनुमान के मुताबिक कार्तिक पूर्णिमा के शुभ मुहूर्त पर सोमवार को वाराणसी में 8 हजार से ज्यादा शादियां होने जा रही हैं।एक तरफ राजघाट से रविदास घाट तक देव दीपावली का मेगा इवेंट और दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का काशी दौराऔर इन सब के बीच अपने प्रियजनों के न्यू के निमंत्रण को निपटाने सड़क पर निकलने वाली जनता।इन सभी को संभालना आज वाराणसी जिला प्रशासन पुलिस प्रशासन और ट्रैफिक विभाग के लिए किसी बड़ी जंग से कम नहीं होगा। दरअसल दोपहर 2:00 बजे तक के बाद से ही प्रधानमंत्री का काशी दौरा शुरू हो जाएगा।इसमें भी शाम को 7:00 बजे के बाद प्रधानमंत्री तकरीबन 40 मिनट तक वाराणसी की सड़कों पर होंगे। यह वही वक्त होगा जब ज्यादातर लोग सर्दियों के मौसम को देखते हुए दिने दिन की शादी विवाह का निमंत्रण निपटाने के लिए घरों से सड़क पर उतरेंगे।कई लोग तो ऐसे भी हैं जिन्हें एक ही शाम कई प्रिय जनों के यहां नेवता करने जाना है।10 से 15 किलोमीटर की लंबाई चौड़ाई वाले शहर बनारस में कोई चितईपुर से चिरईगांव के लिए निकलेगा तो कोई पांडेपुर से पांडे हवेली के लिए कोई बाइक और स्कूटी से परिवार को लेकर निकलेगा तो कोई फोर व्हीलर से धाक जमाते हुए। कुल मिला जुला के आज शाम सड़क पर जबरदस्त गदर मचना तय है। हालांकि प्रशासन की ओर से शहर के तमाम रूटों पर कहीं नो व्हीलर जोन बनाया गया है तो कहीं डाइवर्ट लागू किया गया है इसके बावजूद बनारसी कहां मानने वाले हैं। लिहाजा पुलिस और खासकर ट्रैफिक विभाग के लिए आज का त्यौहार पूरी तरह से सिरदर्द ही साबित होने वाला है।वैसे भी प्रधानमंत्री का काफिला लंका, नरिया, डीरेका, मंडुवाडीह, लहरतारा, कैंट, नदेसर, पांडेपुर आदि व्यस्त सड़कों से ही गुजरेगा और वह भी ठीक उस समय जब बनारसी नेवता निमंत्रण के लिए रास्ते में ही होंगे।सबसे अहम बात यह है कि घने सरी क्षेत्र से बाहरी इलाकों में होने के कारण इन क्षेत्रों में ही ज्यादातर लान बैवबेट हाल बन चुके हैं जो कि महीनों पहले से ही बुक है।रविवार यानी कल वाराणसी में प्रधानमंत्री के काफिले का डमी रिहर्सल किया गया। अमूमन रविवार को बनारस की सड़कों पर ज्यादा ट्रैफिक नहीं होता है मगर कल ही पुलिस और ट्रैफिक विभाग के ग्राउंड लेवल पर तैनात जवानों ने इस बात की बखूबी भाप लिया था की सोमवार का दिन उनके लिए कितना कठिन होने वाला है।प्रधानमंत्री का काफिला जिन जिन क्षेत्रों से गुजरेगा वहां ट्रैफिक को लगभग 20 से 25 मिनट तक रोके रखा जा सकता है। पीएम के काफिले के गुजर जाने के बाद जब 20 मिनट तक रुकी भीड़ सड़क पर एक साथ उतरेगी तो ठीक वैसा ही नजारा लोग जैसे बांध से पानी छोड़ा जाता है।लॉकडाउन मेरु की शादियों भी आज ही के दिन कार्तिक पूर्णिमा की शाम जब आकाश के देवगढ़ बाबा विश्वनाथ संग दीपावली का उत्सव मनाने काशी के घाटों पर उतरते हैं ऐसे पावन बेला में विवाह संस्कार को बड़ा ही शुभ माना जाता है।कोरोना और लॉक डाउन के चलते इस साल के शुरुआत में जिन तमाम साथियों की डेट को आगे बढ़ाया गया वह शादियां भी आज का की पूर्णिमा को ही संपन्न होने जा रही हैं।

shrinarad media

Leave a Reply

Next Post

कार्तिक पूर्णिमा पर दीपो से सजा माँ सिद्धिदात्री मंदिर

Mon Nov 30 , 2020
कार्तिक पूर्णिमा पर दीपो से सजा माँ सिद्धिदात्री मंदिर श्रीनारद मीडिया‚ विककी बाबा‚ मशरक‚ सारण (बिहार): सारण जिलले के  मशरक प्रखंड के बाजार क्षेत्र में अवस्थित मां सिद्धिदात्री मंदिर पर कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर पुरा मंदिर दीपो से सज गया। सोमवार को सुबह कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर हजारों […]
WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
error: Content is protected !!