अध्यात्मरिश्ते

पति पत्नी को किस दिशा में सोना चाहिए 

पति पत्नी को किस दिशा में सोना चाहिए

श्रीनारद मीडिया,  सेंट्रल डेस्क :

पति पत्नी को किस दिशा में सोना चाहिए: अगर आप वास्तु (vastu) में विश्वास करते हैं तो आपको मालूम होगा कि एक खुशहाल वैवाहिक जीवन के लिए आपको अपने सोने की दिशा सहित घर में बेड रखने की दिशा और बेडरुम बनाने की सही दिशा (right direction) का भी बहुत बारीकी से ध्यान रखना पड़ेगा। वास्तव में इन चीजों का हमारे जीवन पर बहुत असर पड़ता है और काफी हद तक आपके बेडरुम की चीजों से ही यह निर्धारित होता है कि आपका शादीशुदा जीवन कैसा होने वाला है। अगर आप विवाहित हैं और इस बारे में कुछ भी नहीं जानते हैं तो इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे हैं कि पति पत्नी को किस दिशा में सोना चाहिए।

website ads
WhatsApp Image 2022-12-28 at 17.44.51
1
३५
२१
previous arrow
next arrow
website ads
WhatsApp Image 2022-12-28 at 17.44.51
1
३५
२१
९
८
७
previous arrow
next arrow

पति पत्नी को अपना सिर दक्षिण दिशा में करके सोना चाहिए

अक्सर देखा जाता है कि पति पत्नी सोते समय इस बात का ध्यान नहीं रखते हैं कि उनका सिर किस दिशा में है और पैर किस दिशा में है। वास्तव में एक शादीशुदा दंपत्ति (married couple) जिस दिशा में सोते हैं, उसका उनके वैवाहिक जीवन पर बहुत प्रभाव पड़ता है इसलिए हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि सोने की दिशा एकदम सही हो। वास्तु के अनुसार यदि सोते समय पति पत्नी का सिर दक्षिण दिशा में और पैर उत्तर दिशा में हो तो उनका वैवाहिक जीवन खुशहाल रहता है। आमतौर पर दक्षिण दिशा में सिर करके सोने से घर में नकारात्मक ऊर्जा (negative energy) नहीं आती है।

पति पत्नी को अपना बेड दक्षिण पश्चिम दिशा में लगाना चाहिए

आमतौर पर सही दिशा में सोने के लिए सबसे पहले यह जरूरी है कि पति पत्नी के बेडरुम का बेड सही दिशा में हो। जब आप अपने बेड को सही दिशा में लगाते हैं तभी आप सही पोजीशन एवं दिशा में सो भी सकेंगे। इसलिए वास्तु के अनुसार पति पत्नी को अपना बेड दक्षिण पश्चिम (southwest ) दिशा में लगाना चाहिए और पैर को हमेशा उत्तर (north) की करके सोना चाहिए। सोते समय हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि यह आपके जीवन में एक महत्व रखता है और इसी के अनुसार आप दोनों के बीच तालमेल (coordination) भी बेहतर होता है। अगर आप वास्तु में विश्वास रखते हैं तो आपको खुशहाल वैवाहिक जीवन के लिए इन बातों का ध्यान जरुर रखना चाहिए।

पत्नी को बायीं तरफ और पति को दायीं तरफ सोना चाहिए

आमतौर पर पति और पत्नी के सोने की दिशा (Sleeping Direction For Couples) तो निर्धारित हो जाती है अर्थात् माना जाता है कि दोनों को उत्तर की ओर पैर और दक्षिण दिशा की ओर सिर करके सोना चाहिए। लेकिन इसके अलावा यह भी ध्यान रखना बेहद महत्वपूर्ण है कि पति को बेड के किस तरफ सोना चाहिए और पत्नी को बेड के किस तरफ सोना चाहिए। अगर आप एक खुशहाल वैवाहिक जीवन चाहते हैं तो इन दोनों का ही बहुत बारीकी से ध्यान रखना पड़ेगा। वास्तु के अनुसार पत्नी को बेड के बाएं तरफ और पति को बेड के दाएं तरफ सोना चाहिए। इससे पति और पत्नी के बीच हमेशा प्यार (love) बना रहता है और उनके रिश्तों में कोई कड़वाहट नहीं आती है।

पति और पत्नी को लकड़ी के बेड पर सोना चाहिए –

वास्तव में पति और पत्नी के सोने की दिशा तो सही होनी ही चाहिए लेकिन इसके साथ ही यह भी बहुत मायने रखता है कि आप जिस बेड पर सो रहे हैं वह किस चीज का बना हुआ है। वास्तु के अनुसार एक लंबे और बेहतर वैवाहिक जीवन (married life) के लिए पति पत्नी को हमेशा लकड़ी के बने बेड पर ही सोना चाहिए। आज के आधुनिक समय में बाजार में तरह तरह के मेटल के फैशनेबल बेड मिलते हैं जो ज्यादातर घरों में दिखायी देते हैं। लेकिन शादीशुदा जोड़े को मेटल के बेड पर कभी नहीं सोना चाहिए। कहा जाता है कि लकड़ी का बेड सभी तरह की नकारात्मक ऊर्जा (negative energies) को अवशोषित (absorbs) कर लेता है जिससे पति पत्नी के बीच कभी कोई गलतफहमी (misunderstanding) नहीं पैदा होती है और जीवन सुखमय होता है।

पति पत्नी का बेडरुम उत्तर पश्चिम दिशा में होना चाहिए –

अगर आप शादीशुदा हैं और चाहते हैं कि आपकी पत्नी के साथ आपका रिश्ता सात जन्मों तक बना रहे तो घर के उत्तर पश्चिम में स्थित कमरे को आपको अपना बेडरुम बनाना चाहिए। वास्तु के अनुसार यदि आप अपने घर के सबसे बड़े दंपत्ति नहीं हैं तो उत्तर पश्चिम दिशा में आपका बेडरुम होना आपके एवं आपकी पार्टनर के जीवन के लिए काफी लाभदायक (Favourable) हो सकता है लेकिन यदि आप घर के सबसे बड़े दंपत्ति हैं तो अपना बेडरुम दक्षिण पश्चिम दिशा में बनाने की कोशिश करनी चाहिए। इससे आप दोनों के जीवन से वास्तु दोष खत्म हो जाएगा और आप एक दूसरे के साथ खुश रहेंगे।

शांतिपूर्ण वैवाहिक जीवन के लिए क्या करना चाहिए –

आमतौर पर अपने शादीशुदा जीवन को खुशहाल एवं शांतिपूर्ण बनाने के लिए वास्तु के नियमों का बहुत गहरायी से पालन करना पड़ता है। वास्तव में वास्तु के नियम ऐसे होते हैं जिनका वैवाहिक जीवन पर बहुत गहरा प्रभाव (deep effect) पड़ता है। आइये जानते हैं एक शांतिपूर्ण शादीशुदा जीवन के लिए दंपत्ति को किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

  • दंपत्ति के सोने का कमरा दक्षिण पश्चिम (south west) या फिर दक्षिण दिशा में होना चाहिए।
  • बेडरुम के कमरे की दीवारें हल्के और सूकुन देने वाले रंगों (soothing colours) से पेंट होने चाहिए।
  • बेड के ऊपर एक ही गद्दे (mattress) और एक ही रजाई (quilt) का उपयोग करने से वैवाहिक जीवन में शांति रहती है।
  • वास्तु के अनुसार अच्छी गुणवत्ता (good quality) की लकड़ी का बेड इस्तेमाल करना चाहिए।
  • बेडरुम में हमेशा ताजे फूल (fresh flowers) रखना चाहिए और उन्हें हमेशा बदलते रहना चाहिए।
  • घर के उत्तर पूर्ण हिस्से (North East part) को साफ करना चाहिए।
  • दक्षिण दिशा में सिर (head) करके सोने से पति पत्नी एक दूसरे से यौन रुप से संतुष्ट रहते हैं और नींद बहुत गहरी आती है।

शांतिपूर्ण जीवन के लिए पति पत्नी को क्या नहीं करना चाहिए –

एक शांतिपूर्ण वैवाहिक जीवन के लिए आपको कुछ चीजों से परहेज करना पड़ता है और कुछ चीजों को अपने जीवन से बाहर निकालना पड़ता है। आइये जानते हैं वे चीजें क्या हैं।

कपल्स को उत्तर पूर्व दिशा में बेड लगाकर सोने से परहेज करना चाहिए क्योंकि इस दिशा को इसान कोना (Eshaan corner) माना जाता है जो कि पूजा पाठ के लिए आदर्श कोना (ideal ) होता है। इस कोने में बेड लगाने से विवाहित युगल (spouse) की मौत भी हो सकती है या फिर स्वास्थ्य संबंधी गंभीर समस्याएं और गर्भपात (miscarriage) एवं गर्भधारण (conceiving) करने में परेशानी हो सकती है।

  • इसके साथ ही दक्षिण पूर्व (South East) दिशा में भी अपना बेडरुम नहीं बनाना चाहिए।
  • शांतिपूर्ण जीवन के लिए कांटेदार पौधों को बेडरुम में कभी नहीं लगाना चाहिए।
  • बेड के अंदर सामान भरकर रखने से शादीशुदा जीवन में कई उलझनें (problems) आती हैं।
  • दक्षिण दिशा में पैर करके सोने से हमेशा परहेज (neglect) करना चाहिए।
  • पूर्व दिशा में सिर करके सोने से पार्टनर को गुस्सा बहुत आता है इसलिए यह सावधानी बरतनी चाहिए।

शादी एक पवित्र बंधन होता है जो न सिर्फ दो लोगों को जोड़ता है बल्कि दो परिवारों को भी जोड़ता है। इसलिए आमतौर पर एक खुशहाल और सुखद वैवाहिक जीवन की कामना हर इंसान करता है। जब शादीशुदा जीवन बेहतर रहता है तो व्यक्ति अपने जीवन में खूब तरक्की करता है और नौकरी और बिजनेस में अच्छा प्रदर्शन करता है। इसलिए शादीशुदा जीवन को बेहतर बनाने के लिए आप ऊपर बताये गए बास्तु टिप्स का उपयोग कर सकती है लेकिन एक बात ध्यान रखें जितना जरूरी हो उतना ही अपने बेडरूम में बदलाव करें।

 

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button
error: Content is protected !!