मनोहर सरकार ने लाठीचार्ज करके अंग्रेजों के कुशासन की दिलाई याद : डा. संतोष दहिया।

मनोहर सरकार ने लाठीचार्ज करके अंग्रेजों के कुशासन की दिलाई याद : डा. संतोष दहिया।

श्रीनारद मीडिया , प्रभारी हरियाणा डेस्क – वैद्य पण्डित प्रमोद कौशिक ( छाया – सुकान्त पण्डित )

हरियाणा कुरूक्षेत्र :- करनाल में छात्रों पर लाठीचार्ज करने की घोर निंदा करते हुए सर्वजातीय सर्वखाप महिला महापंचायत की अध्यक्ष डा. संतोष दहिया ने कहा कि प्रदेश की मनोहर सरकार ने प्रदर्शन कर रहे छात्रों पर लाठीचार्ज करके अंग्रेजों के कुशासन की याद दिला दी है। एक तरफ जहां देश 13 अप्रैल को जालियांवाला बाग हत्याकांड के 100 साल पूरे होने पर शहीदों को नमन कर रहा था, वहीं हरियाणा पुलिस करनाल में अपने साथी छात्र की सड़क दुर्घटना में हुई मौत पर प्रदर्शन कर न्याय मांग रहे निर्दोष छात्र-छात्राओं पर बेरहमी से लाठियां बरसा रही थी।
प्रोफेसर संतोष दहिया ने लाठीचार्ज की निंदा करते हुए आरोप लगाया कि सरकार इस कांड में शामिल दोषी अधिकारियों को बचाने में लगी है। सरकार का कोई नुमाइंदा पीडि़त छात्रों से बातचीत करने तक नहीं पहुंचा। उन्होंने मृतक छात्र के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी की मांग करते हुए कहा कि छात्रों पर दर्ज किए गए मुकदमे वापस लिए जाएं। साथ ही कहा कि सरकार इस कांड की न्यायिक जांच करवाए। दोषी अधिकारियों के खिलाफ न्यायोचित कार्रवाई की जाए व निर्दोष छात्रों को न्याय दिलवाया जाए। डा. संतोष दहिया ने कहा कि जननता जब भी किसी दुखद घटना को भूलना चाहती है, भाजपा सरकार दोबारा से जख्मों को हरा कर देती है। जलियांवाला बाग कांड की सौंवी बरसी पर करनाल में आईटीआई के विद्यार्थियों पर हुए लाठीचार्ज को भुलाया नहीं जाएगा।

Leave a Reply