छपरा शहर में माहवारी स्वच्छता जागरूकता कार्यक्रम शुरू किया गया

छपरा शहर में माहवारी स्वच्छता जागरूकता कार्यक्रम शुरू किया गया

०१
WhatsApp Image 2023-11-05 at 19.07.46
PETS Holi 2024
previous arrow
next arrow
०१
WhatsApp Image 2023-11-05 at 19.07.46
PETS Holi 2024
previous arrow
next arrow

श्रीनारद मीडिया, मनोज तिवारी, छपरा (बिहार )

छपरा शहर के रौजा क्षेत्र में लड़कियों  एवं महिलाओं के बीच मासिक धर्म जागरूकता कार्यक्रम रेणु देवी के सहयोग से किया गया एवं सेनेटरी नैपकीन के इस्तेमाल करने के प्रति जागरुक किया गया तथा सेनेटरी नैपकीन वितरण किया गया।
इससे महिलाओं एवं बच्चियों के बीच उत्साह देखने को मिला । महिलाओ ने पीरियड से जुड़ी एवं अन्य समस्याओं के विषय पर अपनी बातो को खुल कर रखा ।

कार्यक्रम का संचालन कर रही भारती ने बताया कि मासिक धर्म के दौरान सेनेटरी नेपकिन का इस्तेमाल करना चाहिए। इसे खरीदने में झिझक नहीं होनी चाहिए। इसके प्रति पुरुषों को भी संवेदनशील होने की जरूरत है। लोगों को बताया कि यह पीरियड कोई छुआछूत या परिवार से अलग रहने के लिए नहीं होता है। बताया गया कि आज भी विशेष दिनों में लड़कियों के साथ घर में अलग व्यवहार किए जाने की सूचना मिलती है। ऐसा जागरूकता के अभाव में हो रहा है।
आंगनबड़ी सेविका खुशबू कुमारी ने कहा कि जिस पर घर और समाज में खुलकर बात की जाए तो इस दौरान स्वच्छता के महत्व को भी समझा जा सकता है। जिसके लिए हमें एक माहौल बनाना होगा और पुरानी परंपरागत सोच को बदलना होगा। यह स्वच्छता महिलाओं को रखेगी स्वस्थ और देगी विश्वास आगे बढ़ने का, कभी नहीं रुकने का और डर को जड़ से खत्म कर देने का।
इस अवसर पर राष्ट्रीय युवा गौरव सम्मान प्राप्त भारती , रेनू देवी, पूर्वी रौजा वार्ड पार्षद मीरा देवी, आंगनबड़ी सेविका खुशबू कुमारी , पूजा , ज्योति , खुशी आदि अन्य बच्चियां मौजुद थी।

यह भी पढ़े 

गिड़गिड़ाती रही नाबालिक पर नहीं माने दरिंदे.

सामाजिक कुरीतियो के खिलाफ आजीवन लडनेवाले समाजोद्धार संघ के अध्यक्ष चन्द्रभूषण गिरि नही रहे

जलालपुर में पंडित महेंद्र मिश्र की 136वीं जयंती समारोह पूर्वक मनाई गई

ब‍िहार से जुड़ा मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक भरी कार रखने वाले का तार

नौ साल बाद जदयू के हुए उपेंद्र कुशवाहा,कैसे?

बिहार में जमुई के खेत में मिली छात्र-छात्रा की लाश.

पांच साल की बच्‍ची के साथ 65 साल के बुजुर्ग ने किया घिनौना काम, गिरफतार  

बिहार एसटीईटी में जो पास हो गए उनकी नौकरी पक्‍की! पांच हजार पद रह जाएंगे खाली

Leave a Reply

error: Content is protected !!