न्यूजीलैंड गोलीबारी: मृतकों की संख्‍या हुई 50, सात भारतीयों की मौत की पुष्टि

न्यूजीलैंड गोलीबारी: मृतकों की संख्‍या हुई 50, सात भारतीयों की मौत की पुष्टि

श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क

न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में दो मस्जिदों में हुई गोलीबारी में सात भारतीयों के मारे जाने की खबर है. शनिवार को न्यूजीलैंड में मारे गये चार भारतीयों के परिवारवालों ने अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया से इसकी पुष्टि की. मृतकों की बात करें तो इनमें से एक व्यक्ति हैदराबाद , एक महिला केरल और दो व्यक्ति गुजरात के रहने वाले थे.

इनके अलावा गुजरात और तेलंगाना से संबंध रखने वाले भारतीय मूल के तीन अन्य लोगों के मारे जाने की भी पुष्टि की गयी है. हमले में पाकिस्तान और बांग्लादेश के भी दो-दो नागरिकों के मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है. इधर , मजिस्दों में हुई गोलीबारी में मृतक संख्या बढ़कर 50 हो गयी है. पुलिस आयुक्त माइक बुश ने संवाददाताओं को बताया कि क्राइस्टचर्च की दोनों मस्जिदों से शव हटाए जाने के दौरान एक अन्य शव मिला. इसके बाद मृतक संख्या बढ़कर 50 हो गयी. उन्होंने बताया कि 36 अन्य लोग अस्पताल में हैं.

उल्लेखनीय है कि एक दक्षिणपंथी अतिवादी ब्रेंटन टैरेंट ने जुम्मे की नमाज के दौरान मस्जिदों पर हमला किया था. बुश ने बताया कि हमलों के समय पुलिस की घेरेबंदी के दौरान गिरफ्तार किये गये दो संदिग्धों का इस हमले से सीधा संबंध नहीं है. दोनों संदिग्धों में से एक महिला है. उसे रिहा कर दिया गया है और दूसरे संदिग्ध के वाहन में हथियार मिले थे इसलिए वह हिरासत में है.

उन्होंने बताया कि मामले में गिरफ्तार एक अन्य व्यक्ति को सोमवार को अदालत में पेश किया जाएगा, हालांकि ऐसा माना जा रहा है कि वह भी गोलीबारी में शामिल नहीं था. बुश ने टैरेंट का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘इस समय, हमले के संबंध में केवल एक व्यक्ति पर आरोप लगाए गये हैं.’

केरल की महिला
क्राइस्टचर्च आतंकी हमलों में मारे गये 49 लोगों में केरल की एक महिला भी शामिल है और मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने शनिवार को एक फेसबुक पोस्ट में इसकी पुष्टि की. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि अंशी करीप्पकुलम (27) के मौत की पुष्टि हो गयी है और उनके परिवार को सूचित कर दिया गया है. अपने फेसबुक पोस्ट में विजयन ने न्यूजीलैंड में आतंकी हमले में मारे गए लोगों में कोडुन्गल्लूर की एक निवासी के शामिल होने की खबर को दुखद बताया. विजयन ने कहा कि और सूचना लेने के लिए हम ‘नॉन रेसीडेंट केरलाइट्स अफेयर्स डिपार्टमेंट (एनओआरकेए-रूटस) के जरिए दूतावास से संपर्क करने का प्रयास कर रहे हैं. हम परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करते हैं. खबरों के मुताबिक, महिला वहां एक विश्वविद्यालय में एमटेक की पढ़ाई कर रही थी. अंशी का पति कोच्चि का रहने वाला है.

हैदराबाद का युवक
एआईएमआईएम अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी का कहना है कि न्यूजीलैंड में मस्जिदों में हुई गोलीबारी में घायल हुए हैदराबाद के निवासियों में से एक की मौत हो गयी है. ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल-मुस्लीमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष ने शनिवार रात ट्वीट किया, ‘‘बड़े दुख के साथ सूचित करना पड़ रहा है कि क्राइस्टचर्च हमले में घायल पीड़ितों में से एक फरहाज अहसान की मौत हो गयी.’ पेशे से सॉफ्टवेयर इंजीनियर फरहाज पिछले सात साल से न्यूजीलैंड में काम कर रहे थे. फरहाज विवाहित हैं और उनके दो बच्चे हैं. हमले में घायल हैदराबाद के एक अन्य निवासी अहमद इकबाल जहांगीर के बारे में उनके भाई खुर्शीद जहांगीर ने बताया कि वह अस्पताल में हैं और उनके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है. खुर्शीद ने कहा, ‘‘मुझे न्यूजीलैंड का वीजा दिलाने में मदद करने के लिए मैं सरकार का शुक्रगुजार हूं. मैं आप अपने भाई से मिलने जा रहा हूं. वह खतरे से बाहर है और उसके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है.’

Leave a Reply