चुनाव को लेकर मतदान कर्मियों ने कसी कमर, मतदान 3 को

चुनाव को लेकर मतदान कर्मियों ने कसी कमर, मतदान 3 को

श्रीनारद मीडिया‚ चमन श्रीवास्तव‚ सीवान (बिहार)

सीवान  जिले में 3 नवम्बर को होने वाले सभी 8 विधानसभा क्षेत्रों में विस चुनाव को लेकर शुक्रवार को मतदानकर्मियों का प्रशिक्षण संपन्न हो गया। कर्मियों के दूसरे व अंतिम फेज का यह प्रशिक्षण 21 अक्टूबर से चल रहा था। जिसमें 3571 मतदान केंद्रों पर तैनात होने वाले पीठासीन पदाधिकारी, माइक्रो आब्जर्बर सहित विभिन्न मतदान कर्मियों को यह प्रशिक्षण दिया गया। कोविड-19 को लेकर इस चुनाव में पहली दफे बड़ी संख्या में महिला मतदान कर्मियों को लगाया गया है। इसी क्रम में आदर्श वीएम हाई स्कूल के केंद्र संचालक ओमप्रकाश प्रसाद ने प्रशिक्षण में शामिल होकर संबंधित केन्द्र पर दिये जा रहे प्रशिक्षण की बारीकियों को खुद देखा। इस दौरान उन्होंने खुद कई निर्देश भी दिए। संबंधित केंद्र पर मास्टर ट्रेनर कामेश्वर पाठक, तनवीर अहमद, उज्जवल श्रीवास्तव व विनोद उपाध्याय द्वारा खासकर सीलिंग प्रक्रिया को समझाया गया। बताया गया कि मॉकपोल के पूर्व व मॉकपोल के उपरांत सीआरसी की प्रक्रिया करते हुए मशीन को कैसे सील किया जाए । ज्ञात हो कि सीआरसी का तात्पर्य क्लोज , रीस्टार्ट व क्लियर से है। वहीं राजवंशी देवी बालिका उच्च विद्यालय के नोडल निशिकांत श्रीवास्तव के मार्गदर्शन में दक्ष प्रशिक्षक प्रकाश कुमार, अशोक कुमार मिश्र व गणेश प्रसाद गुप्ता ने बताया कि माइक्रो ऑब्जर्वर सूक्ष्म प्रेक्षण करते हुये समस्त मतदान प्रक्रिया में सजग प्रहरी होते हैं। मौजूदा प्रशिक्षकों ने 39 बिंदुों पर सूक्ष्म प्रेक्षण का प्रशिक्षण दिया। माइक्रो आब्जर्वर मतदान दल के हिस्सा नहीं होते हैं। परंतु इनके द्वारा मतदान के दिन मतदान केन्द्रों में मॉकपोल से लेकर मतदान समाप्ति तक की विभिन्न चरणों का सूक्ष्म प्रेक्षण किया जाता है। डीएवी हाई स्कूल के नोडल राधेश्याम सिंह ने 112 महाराजगंज विधानसभा क्षेत्र के लिए प्रतिनियुक्त मतदान कर्मियों को बताया कि 3 नवंबर को होने वाले मतदान के लिए हर मतदान केंद्र पर कोविड-19 से बचाव के लिए विशेष दल भी मतदान दलों के साथ तैनात रहेंगें। यह दल मतदाताओं को मास्क व दस्ताने देने, उनका तापमान लेने व सैनेटाइज कराने का काम संभालेंगे।

पीठासीन के साथ वज्रगृह जाएंगे पी-वन

पोलिंग पार्टी के मुखिया पीठासीन अधिकारियों द्वारा मतदान के पश्चात उत्पन्न होने वाली चुनौतियों को लेकर मास्टर ट्रेनरों का ध्यान आकृष्ट कराया गया। जिसका निष्पादन त्वरित किया गया। मास्टर ट्रेनर विनोद कुमार सिंह, संतोष प्रसाद व पंकज कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि ईवीएम एम-थ्री, वीवीपैट और मतदान सामग्री जमा होने तक पीठासीन अधिकारी व संग्रहण सह गश्तीदल दंडाधिकारी के साथ पी-वन अनिवार्य रूप से रहेंगे। पीठासीन अधिकारी पी-वन को रिलीविंग तब तक नहीं देंगे जब तक सामग्री जमा नहीं हो जाती। पीठासीन अधिकारी के आदेश की अवहेलना करने पर मतदान पदाधिकारियों पर कठोर दण्डात्मक कार्रवाई की जाएगी।

एसएमएस करने की तकनीक से अवगत हुए पीठासीन

प्रशिक्षण के दौरान पीठासीन अधिकारियों को एसएमएस करने की तकनीक से अवगत कराया गया। प्रत्येक दो-दो घंटे में डाले गए मतों की संख्यात्मक जानकारी कंट्रोल रूम को उपलब्ध कराने की बात बताई गई।

shrinarad media

Leave a Reply

Next Post

हरिशंकर यादव को विधायक व तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाने के लिए महागठबंधन के कार्यकर्ता लगे है जी जान से

Sat Oct 31 , 2020
हरिशंकर यादव को विधायक व तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाने के लिए महागठबंधन के कार्यकर्ता लगे है जी जान से राजद कार्यकर्ताओ ने गभीरार पंचायत में किया पैदल मार्च,उमड़ी जनसैलाब से विरोधियों की बढ़ी बेचैनी आज शनिवार को चकरी में चुनावी सभा को सम्बोधित करेंगे तेजस्वी यादव,भारी भीड़ जुटने की […]

Breaking News

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
error: Content is protected !!