मोदी को जननायक बनने से क्या रोक पाएंगी प्रियंका

मोदी को जननायक बनने से क्या रोक पाएंगी प्रियंका

श्रीनारद मीडिया,ब्यूरो प्रमुख – सुनील मिश्रा,वाराणसी (यूपी)

वाराणसी – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के चुनाव लड़ने को लेकर बड़ी रणनीति बन रही है। सारी कवायद पीएम मोदी को जननायक बनने से रोकने की है। जीत की उम्मीद के साथ प्रियंका गांधी को लेकर चुनावी मैदान में दांव खेल रही कांग्रेश हार की आशंका को भी निराधार मानकर नहीं चल रही है लेकिन इस हार को भी वह जीत से कम नहीं आ रही है क्योंकि कांग्रेस के रिसर्च टीम को जातिगत समीकरण ने जो संकेत दिए हैं उसमें यदि पीएम मोदी को जीत मिल भी रही है तो मतों का अंतर बहुत कम रहने की संभावना है। ऐसे में प्रियंका के हार जाने के बाद भी यह चुनाव पीएम मोदी के समक्ष कांग्रेश को विकल्प के तौर पर खड़ा कर देगा। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने 4 दिन पहले हरवा में संगठन के पदाधिकारियों के साथ जो बैठक की उस में पीएम मोदी को बड़ी जीत दिलाने की अपील की। निकट प्रतिबंधी से करीब 7 लाख मतों से जीत का लक्ष्य रखा क्योंकि अब तक किसी भी लोकसभा सीट पर इतने बड़े अंतर से किसी भी प्रत्याशी की जीत नहीं हुई है। यदि जीत का यह लक्ष्य मिला तो चुनाव बाद भाजपा पीएम मोदी के जननायक की छवि को मजबूती से जनता के समक्ष प्रस्तुत करेगी। भाजपा की इसी रणनीति की काट खोजने में कांग्रेस लगी है। शीर्ष नेतृत्वमंथन करते हुए वाराणसी संसदीय सीट से कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को चुनाव मैदान में उतारने का विचार कर रही है। जिसके तहत जीत वह हार को लेकर नफा नुकसान का आकलन किया जा रहा है। वाराणसी संसदीय सीट से कांग्रेस कई और नामों पर भी विचार कर रहा है। इसमें भाजपा से बागी तेवर अपना चुके यशवंत सिन्हा का नाम भी उछाला जा रहा है। लेकिन बड़ा सवाल महागठबंधन को लेकर खड़ा है क्योंकि अमेठी के रायबरेली का फॉर्मूला वाराणसी के लिए सिर्फ प्रियंका के नाम पर ही संभव है। दूसरा प्रत्याशी उतारा गया तो महागठबंधन भी फ्रेंडली फाइट से हाथ किस ते हुए उम्मीदवार उतारने में पीछे नहीं हटेगा। पूर्वांचल में कमजोर हो चुकी कांग्रेस को नवजीवन देने के लिए संगठन की ओर से भी प्रियंका गांधी को वाराणसी से चुनाव लड़ने की मांग उठ रही है। जिला कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों ने बैठक कर फिर मांग दोहराई। अध्यक्षता कांग्रेस प्रवक्ता प्रमोद श्रीवास्तव ने की। प्रियंका गांधी का नाम उछलने के बाद जिला कमेटी ने बूथ स्तर को मजबूती देने के लिए कमर कस ली है। जिला अध्यक्ष प्रजा नाथ शर्मा गांव गांव में बैठकर कर रहे हैं। प्रदेश महासचिव सतीश चौबे ने कहा कि मोदी को पराजित करने के लिए कांग्रेस पूरी ताकत झोंक देगी। भाजपा ने मतों के बड़े अंतर से मोदी की जीत का जो सपना सजो रखा है उसे ध्वस्त कर दिया जाएगा।

Leave a Reply