Raghunathpur:संदिग्ध लोगों की सूचना को गम्भीरता से नही लेता रघुनाथपुर प्रशासन

Raghunathpur:संदिग्ध लोगों की सूचना को गम्भीरता से नही लेता रघुनाथपुर प्रशासन

कंट्रोल रूम का नम्बर बन्द,लॉक डाउन के चौथे दिन लोग घरों में दुबके

श्रीनारद मीडिया, प्रसेनजीत चौरसिया, रघुनाथपुर, सीवान (बिहार)

तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस को रोकने के लिये सरकार जनता से अपील कर रही है कि आपके आस-पास हाल के दिनों में देश के अन्य हिस्सों या विदेश से आये भारतीयों की जानकारी स्थानीय प्रशासन को दे।जिसका पालन रघुनाथपुर की जागरूक जनता बखूबी पालन करते हुए प्रशासन द्वारा बनाए गए कंट्रोल रूम व अन्य माध्यमो से सूचना पहुचाई जा रही है।लेकिन स्थानीय प्रशासन इसे गम्भीरता से नही ले

रहा है।इसका प्रत्यक्ष प्रमाण ये है कि हाथों पे मुहर लगा व्यक्ति भी लॉक डाउन में खुलेआम घूम रहा है।गभीरार उत्तर टोला निवासी हरेन्द्र चौहान के दो लड़के,आदमपुर निवासी राजीव चौरसिया,गभीरार पूरब टोला के मस्जिद में मौलवी के द्वारा ही कोचिंग का संचालन हो,पतार निवासी श्रीराम साह,रघुनाथपुर निवासी मुन्ना तुरहा,अरविंद यादव,रंजय यादव,अली हुसैन मियां उर्फ पंडा का पूरा परिवार, नवादा निवासी मुकेश पटेल के बारे में सूचना हो या ध्रुप महतो,पिता-राजेन्द्र महतो,माता-लक्ष्मीना देवी
बिचली काली मन्दिर के कौसड निवासी बुधवार को सुबह गांव/घर आया था। की तबियत अचानक से खराब हो गई जिसकी सूचना स्थानीय लोगो ने कंट्रोल नम्बर पर दी.कंट्रोल रूम के तरफ से टीम भेजने की बात कही गई।दो घण्टे इंतजार के बाद स्थानीय लोग अपने घर चले गए व कंट्रोल नम्बर भी बन्द बताने लगा।

लॉक डाउन के चौथे दिन सड़को पर सन्नाटा छाए रहा।लोग घरों में दुबके रहे। थानाध्यक्ष मनोज कुमार प्रभाकर ने बात चीत के दरम्यान बताया कि गांवों में स्थिति अब भी भयावह है।इतने प्रचार-प्रसार व लॉक डाउन के बावजूद लोग आमदिनों की भांति पेड़ के नीचे चबूतरे पर बैठ गप सडक्का,ताश खेलते देखे जा रहे है।इस महामारी को रोकने के लिये हम सभी को घरों में रहते हुए पूरी तरह लॉक डाउन को पालन करना होगा।

Leave a Reply