पटना की सबा-फराह: कभी जुदा नहीं होतीं ये बहनें, कैसे देंगी वोट, बताया चुनाव आयोग ने

पटना की सबा-फराह: कभी जुदा नहीं होतीं ये बहनें, कैसे देंगी वोट, बताया चुनाव आयोग ने

श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क

लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण का मतदान 19 मई को होगा और बिहार में आठ सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे। लोकसभा चुनाव के परिणाम 23 मई को आ जाएंगे। चुनाव आयोग पिछले कुछ दिनों से ट्विटर पर चुनाव की सच्ची कहानियां दिखा रहा है। उन कहानियों को जगह दे रहा है जो चुनाव के दौरान घटी हैं।

इन्हीं में एक कहानी है पटना की दो बहनों, सबा फराह की जो सिर से जुड़ी हैं। इनकी कहानी को चुनाव आयोग ने ट्विटर पर ट्वीट के जरिए 13 मई को शेयर किया है, जिसमें इस सवाल का जवाब दिया गया है कि अगर दो व्यक्ति के सिर जुड़े हैं तो उनका एक वोट होगा या वो दो वोट डालेंगे।

उन्होंने इस बात की जानकारी एक सच्ची कहानी के जरिए बतायी।  ये कहानी है बिहार के पटना के दीघा विधानसभा क्षेत्र की, जहां जुड़़वा बहन सबा और फ़राह के सिर आपस में जुड़े हैं। चुनाव आयोग ने उनकी कहानी के जरिए बताया कि कैसे दोनों बहनों ने मतदान का फर्ज निभाया।

ये सच्ची कहानी है पटना के दीघा विधानसभा क्षेत्र की जुंडवा बहनों, सबा और फ़राह की, जिनके सिर जन्म से ही जुड़े थे।
आइए जानते हैं किस तरह उन्होंने अपने मतदान का फ़र्ज़ निभाया।#ChunaavKiKahaniya #IndiaElections2019 pic.twitter.com/6Nj1TSbDLu

इसके बाद चुनाव आयोग ने इस जटिल पहेली का हल निकाल लिया। दोनों का नाम एक ही वोटर कार्ड पर डाला गया। इससे दोनों की पहचान भी अलग-अलग हो गई और वोट एक हो गया। अब दोनों एक-दूसरे की राय लेकर सोच-समझकर वोट डाल सकेंगी। इसके बाद इस पहेली के सुलझने के बाद दोनों ने विधानसभा चुनाव में  18 अक्टूबर 2015 को दीघा विधानसभा क्षेत्र में एक वोट और डाला था जो सबा और फराह का था।

उनसे जब पूछा गया कि मतदान में भाग लेना क्या मायने रखता है। इस पर सबा और फराह ने कहा- ”हमने मतदान किया क्योंकि हम अगली सरकार बनाने में अपनी भूमिका निभाना चाहते हैं।’

जानिए कौन हैं सबा-फराह

पटना के समनपुरा इलाके में रहने वाली 23 वर्षीय सबा-फराह जुड़वा बहनें हैं जो जन्म से ही सिर से एक-दूसरे से जुड़ी हैं। दोनों के अॉपरेशन को लेकर बहुत प्रयास किया गया। लेकिन, जांच के बाद चिकित्सकों ने इसे जटिलतम अॉपरेशन बताया। जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने इन दोनों को अलग करने के लिए कराए जानेवाले ऑपरेशन से मना कर दिया था। क्योंकि ऑपरेशन में दोनों बहनों में से किसी एक की जान जाने की संभावना थी।

बिहार की दो सिर से जुड़ी बच्चियां सबा-फराह के ऑपरेशन के लिए सुप्रीम कोर्ट ने इनकार करने के बाद   बिहार सरकार से हर महीने इनके परिवार को पांच हजार रुपये भी देने को कहा था।

सलमान खान की फैन्स हैं सबा-फराह, बांधी थी राखी

सबा-फराह बचपन से ही बॉलीवुड एक्टर सलमान खान की फैन्स हैं। कुछ साल पहले सलमान खान ने सबा और फराह के साथ रक्षाबंधन के मौके पर राखी बंधवाई थी। जब उन्हें पता चला था कि ये दोनों बहनें उनकी कितनी बड़ी फैन हैं, तो उन्होंने दोनों के लिए फ्लाइट्स की टिकटें भिजवाकर उन्हें मुंबई बुलाया था। सलमान ने दोनों के रहने का भी बंदोबस्त किया था। राखी बंधवाकर सलमान खान ने हमेशा उनकी रक्षा करने का वादा किया था।

सलमान खान से ये दोनों बहनें इस कदर प्यार करती हैं कि जिस दिन सलमान खान के हिट एंड रन मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट अपना फैसला सुनाने वाला था, उस दिन (मई 2015)  इन दोनों बहनों ने व्रत रखा था।

Leave a Reply