सारण की खबरे:सुकसेना गांव में महिला से छेड़खानी तथा मारपीट,दो आरोपित

सारण की खबरे:सुकसेना गांव में महिला से छेड़खानी तथा मारपीट,दो आरोपित

कार्यकाल के अंतिम दिनों में कुलपति ने शेयर किए खट्टे मीठे अनुभव

तीन मजदूर हुए नशा खुरानी गिरोह का शिकार

 

मानव श्रृंखला को सफल बनाना महत्व्पूर्ण लक्ष्य:बीडीओ

कदाचार मुक्त संपन्न कराई जाएगी सिपाही भर्ती की लिखित परीक्षा

जलालपुर में स्कूटी की डिक्की से 20 लीटर देशी शराब बरामद

 

छपरा ले जाने के क्रम में नशे में पकड़ाए युवक की मौत

 

श्रीनारद मीडिया छपरा

जलालपुर – थाना क्षेत्र के सुकसेना गांव की एक महिला के साथ छेड़खानी की गई तथा उसके अपहरण की धमकी दी गई। इस संबंध में पीड़ित महिला मुन्नी देवी उर्फ किरण देवी ने थाने में तीन लोगों के विरुद्ध थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। दर्ज प्राथमिकी में कहा गया है कि आरोपियों ने उसके साथ मारपीट व छेड़खानी की तथा उसके गले से चालीस हजार रुपये के चेन व घर मे रखे पंद्रह हजार रुपये छीन लिए। उस वक्त महिला का पति घर में नहीं था। इस मामले में नवादा गांव के रवि महतो तथा सुकसेना गांव के श्याम प्रसाद तथा अमर प्रसाद के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। फिलहाल पुलिस मामले की छानबीन कर रही हैं।

 

छपरा ले जाने के क्रम में नशे में पकड़ाए युवक की मौत

दिघवारा।शराब के नशे में पकराए युवक को इलाज के लिए छपरा ले जाने के क्रम में मौत हो गई ।पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम हेतु सदर अस्पताल छपरा भेजा है ।मृतक थाना क्षेत्र के शीतलपुर पीरगंज गांव निवासी श्रवण राय (25) वर्ष बताया जाता है ।मिली जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के पीरगंज गांव निवासी मृतक का भाई विनोद राय ने थाने में आवेदन देकर अपने भाई श्रवण पर आरोप लगाया कि घर में शराब पीकर हंगामा कर रहा है तथा परिवार में मारपीट कर रहा है जिसपर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर थाने ले आई जहां अत्यधिक शराब के सेवन से उसकी तबियत बिगरने पर पुलिस ने उसे ईलाज के लिए सीएचसी दिघवारा में भर्ती कराया जहां प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर स्थिति मे सदर अस्पताल छपरा रेफर किया गया जहां रास्ते में ही उसकी मौत हो गई ।

जलालपुर में स्कूटी की डिक्की से 20 लीटर देशी शराब बरामद

 

जलालपुर – थाना क्षेत्र के कोपा-जलालपुर रोड में वाहन चेकिंग के दौरान एक स्कूटी की डिक्की से बीस लीटर देसी शराब बरामद किया गया।साथ ही धंधेबाज को भी गिरफ्तार किया। गिरफ्तार धंधेबाज छपरा भगवान बाजार थाने के श्यामचक के लक्ष्मण प्रसाद का पुत्र संतोष राज बताया गया है। जिसे पुलिस ने शुक्रवार को जेल भेज दिया।वहीं स्कूटी को जब्त कर लिया गया है।

 

कदाचार मुक्त संपन्न कराई जाएगी सिपाही भर्ती की लिखित परीक्षा

 

छपरा : समाहरणालय सभागार में सिपाही भर्ती परीक्षा की संयुक्त ब्रीफिंग करते हुए जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन ने कहा कि यह परीक्षा 12 जनवरी और 20 जनवरी को दो पालियों में शहर के कुल 16 परीक्षा केंद्रों पर शांतिपूर्ण माहौल में पूर्णतः स्वच्छ एवं कदाचार मुक्त संपन्न कराई जाएगी ।प्रथम पाली की परीक्षा सुबह 10:00 बजे से 12:00 बजे तक तथा द्वितीय पाली की परीक्षा अपराहन 2:00 बजे से 4:00 बजे तक होगी। परीक्षा के लिए सेंट्रल पब्लिक स्कूल चांदमारी, सेंट्रल स्कूल घोष कॉलोनी, आरएन सिंह इवनिंग कॉलेज कटरा, जिला स्कूल छपरा, राजेंद्र कॉलेजिएट, राजपूत विद्यालय सह इंटर कॉलेज , विशेश्वर सेमिनरी, ब्रज किशोर किंडरगार्डन स्कूल, शंकर दयाल सिंह कॉलेज, भागवत विद्यापीठ, तपेश्वर सिंह कॉलेज, जगदम कालेज, गांधी उच्च विद्यालय सह इंटर कॉलेज,एल एन बी उच्च विद्यालय, सरस्वती शिशु विद्यालय दर्शन नगर ,राम जयपाल कॉलेज छपरा को परीक्षा केंद्र बनाया गया है जहां कुल 10104 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे।

परीक्षा को कदाचार मुक्त शांतिपूर्ण वातावरण में संपन्न कराने के लिए सशस्त्र पुलिस बल, स्टैटिक दंडाधिकारी ,जोनल एवं उड़नदस्ता दल दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई है। वे संबंधित केंद्रों पर औचक निरीक्षण करेंगे । वे फर्जी परीक्षार्थी या ऐसे परीक्षार्थी जो ब्लूटूथ या अन्य संचार उपकरणों आदि का प्रयोग करें अथवा किसी प्रकार के कदाचार करते पाए जाए तो वैसे व्यक्तियों / अभ्यर्थियों के विरुद्ध तत्काल आवश्यक कानूनी कार्यवाही करना सुनिश्चित करेंगे। सभी केंद्राधीक्षकों को निर्देश दिया गया कि परीक्षार्थियों के लिए सीट प्लान कर उसकी सूची केंद्र के मुख्य गेट पर लगाना सुनिश्चित करेंगे एवं प्रत्येक 2 परीक्षार्थी के बैठने के बीच में 3 फीट की दूरी रखेंगे । परीक्षा केंद्र पर प्रतिनियुक्त स्टैटिक दंडाधिकारी केवल परीक्षार्थियों को ही परीक्षा केंद्र के मुख्य प्रवेश द्वार पर उनके प्रवेश पत्र को देखकर अंदर जाने देंगे । प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी पुलिस पदाधिकारी एवं सशस्त्र बल परीक्षा प्रारंभ होने के 2 घंटे पूर्व अपनी प्रतिनियुक्ति का स्थान ग्रहण कर लेंगे एवं परीक्षा समाप्ति के उपरांत तक उपस्थित रहकर विधि व्यवस्था संधारित करेंगे । परीक्षा कक्ष में मोबाइल फोन, चिटपूर्जा ,कॉपी , किताब, चाकू ,माचिस, ब्लेड इत्यादि के ले जाने की अनुमति नहीं होगी। सभी परीक्षा केंद्रों पर वीडियोग्राफी कराई जाएगी। परीक्षा प्रारंभ होने के 10 मिनट बाद जो परीक्षार्थी अनुपस्थित हैं उनके प्रश्न पत्र वीक्षकों द्वारा वापस ले लिए जाएं तथा इन्हें केंद्राधीक्षक को सौंप दिया जाएगा। 12 एवं 20 जनवरी को आयोजित परीक्षा के लिए पार्षद कार्यालय पटना में एक नियंत्रण कक्ष बनाया गया है जिसका दूरभाष संख्या 0612—2 294 202, 2233711 एवं मोबाइल नंबर 9471000728, 9271000729 है। इसके माध्यम से परीक्षा संबंधी जानकारी प्राप्त की जा सकती है। छपरा में भी अनुमंडल कार्यालय, सदर छपरा के कार्यालय परिसर में जिला नियंत्रण कक्ष की स्थापना दूरभाष संख्या 06152—242444 है। इसके प्रभारी पदाधिकारी आनंद प्रकाश, जिला सांख्यिकी पदाधिकारी सारण मोबाइल नंबर 7004313212को बनाया गया है । जिलाधिकारी ने अनुमंडल पदाधिकारी सदर को परीक्षा तिथि के दिन केंद्र के 500 मीटर परिधि में दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के अंतर्गत निषेधाज्ञा लागू करने का निदेश दिया है। परीक्षा के सफल संचालन हेतु अरुण कुमार, अपर समाहर्ता सारण को सहायक संयोजक के रूप में प्रतिनियुक्त किया गया है। ब्रीफिंग के समय जिलाधिकारी के साथ सारण पुलिस कप्तान हरकिशोर राय एवं सम्बंधित पदाधिकारी तथा केंद्राधीक्षक उपस्थित थे।

 

मानव श्रृंखला को सफल बनाना महत्व्पूर्ण लक्ष्य:बीडीओ

दरियापुर।जल जीवन हरियाली को लेकर आयोजित मानव श्रृंखला को सफल बनाना महत्वपूर्ण लक्ष्य है।इसे शत प्रतिशत सफल बनाना है।उक्त बातें प्रखण्ड कार्यालय में आयोजित बैठक में बीडीओ जयराम चौरसिया ने कही।उन्होंने बैठक में मौजूद सभी शिक्षकों व जीविका समूहों से इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए अपील की।वही सभी निर्धारित रूटों पर ससमय पहुँचने का निर्देश भी दिया।बैठक में अनुपस्थित कर्मियों पर नाराजगी भी जाहिर की।वही सभी शिक्षको से विद्यालयों में प्रभात फेरी व विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन कराने का निर्देश दिया गया।इस मौके पर पंचायती राज पदाधिकारी दिलीप सिंह, बीएओ बालकृष्ण दास, केआरपी नवल ठाकुर,चन्दन शर्मा,चंचला कुमारी,ज्योति कुमार,असलम अंसारी,कमलेश कुमार आदि मौजूद थे।

 

तीन मजदूर हुए नशा खुरानी गिरोह का शिकार

दरियापुर।कानपुर से ट्रेन से अपने घर जैतीपुर लौट रहे तीन मजदुर नशा खुरानी गिरोह के शिकार हो गए।जिसमें बेहोशी की हालत में नूर मोहम्मद व लगन राम प्रमानन्दपुर स्टेशन के पास मिले।जबकि भरत मांझी का अब तक कोई पता नही चल सका है।तीनो कानपुर में एक ही साथ फैक्ट्री के काम करते हैं।बुधवार को तीनों एक ही ट्रेन से घर के लिए चले।इसके बाद रास्ते मे नशा खुरानी के शिकार हो गए।बेहोशी की हालत में गुरुवार की देर शाम नूर मोहम्मद व लगन राम प्रमानन्दपुर स्टेशन पर मीले।उनके पास मिले आई कार्ड के आधार पर परिजनों को सूचना दी गई।इसके बाद दोनों को घर लाया गया।लभी भी दोनों मजदुर आंशिक रूप से बेहोशी की हालत में है और कुछ बता नही पा रहे हैं।उनका इलाज निजी क्लिनिक में चल रहा है।दोनों के पास 20 हजार रुपए व बैग में कपड़े थे जो नशा खुरानी वाले ले लिए।भरत मांझी अब तक घर पर नही पहुंचे हैं।परिजन काफी चिंतित हैं और कल से ही उनके घर चूल्हा नही जला है।

 

कार्यकाल के अंतिम दिनों में कुलपति ने शेयर किए खट्टे मीठे अनुभव

 

कर्मचारियों के बाहर बैठाने के मामले में काट गए कन्नी
जेपीयू के कुलपति ने खुलकर स्वीकार की विश्वविद्यालय की कमियां

 

छपरा : जयप्रकाश विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ हरिकेश सिंह के कार्यकाल 3 वर्ष पूरे होने में मात्र 13 दिन शेष रह गए हैं । अपने 3 वर्षों के कार्यकाल के खट्टे मीठे अनुभव को कुलपति ने प्रेस वार्ता के क्रम में मीडिया कर्मियों के सामने उजागर किया। कुलपति ने स्पष्ट रूप से कहा कि जब से इस विश्वविद्यालय की स्थापना हुई प्रबंधन के उत्साह में कहीं न कहीं कमी जरूर रही । उन्होंने वार्ता के क्रम में कहा कि एक अच्छी बात यह है कि मैंने बहुत से विश्वविद्यालय का भ्रमण किया लेकिन किसी भी विश्वविद्यालय के पास जयप्रकाश विश्वविद्यालय के जितना जमीन उपलब्ध नहीं है। जेपीयू के पास 240 एकड़ जमीन है । लेकिन इसके प्रबंधन के उत्साह में कमी रही । उन्होंने कहा कि 14 दिन बाद मेरे 3 वर्षों का कार्यकाल पूरा करने जा रहा हूँ। जब मैं विश्वविद्यालय में कुलपति के पद पर आसीन हुआ, स्नातक एवं स्नातकोत्तर स्तर के सभी सत्र विलंब से चल रहे थे।छात्रों के रजिस्ट्रेशन एवं नामांकन में काफी गड़बड़ियां थी।उसके बावजूद मैंने 65 परीक्षाएं अभी तक करा डाली जो एक रिकार्ड है। और दो 16 जनवरी से शुरू होने जा रहे हैं जो स्नातक तृतीय वर्ष सत्र 15 –18 एवं 16 –19 के हैं ।दुर्भाग्य है कि समय से यहां की परीक्षाएं नहीं हो रही थी मैंने एक प्रयास किया जिसमें अभिभावकों एवं छात्रों ने भी सहयोग किया। कदाचार रोकने के मामले में भी अभिभावक और छात्रों ने सहयोग किया । इस मामले में कुलपति ने एक टीवी सीरियल का चर्चा करते हुए बताया कि उसमें पात्र यह कह रहा है कि मैं छपरा विश्वविद्यालय का पढ़ा हूं, खासकर यह बात कदाचार के मामले में उन्होंने कहा और साथ में यह भी कहा कि मैंने कदाचार रोकने का प्रयास किया। जिसमें छात्र ,अभिभावक एवं परीक्षा में वीक्षण कार्य करने वाले कर्मचारियों ने भी खुलकर साथ दिया। विश्वविद्यालय के रूप में इस विश्वविद्यालय को कलंकित भी होना पड़ा लेकिन मैंने परीक्षाओं को जो कराया इससे थोड़ा संतोष है और अब करीब करीब सब बैकलॉग या पेंडिंग परीक्षाएं खत्म हो गई है तथा जयप्रकाश विश्वविद्यालय में स्नातकोत्तर स्तर पर 3 सत्र के छात्र प्रवेश लेंगे जो 18–20 19—21 और 20–22 के होंगे जिसमें चॉइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम का विकल्प छात्रों को खुला रहेगा। शिक्षकों की कमी भी अब जयप्रकाश विश्वविद्यालय के पास अब नहीं रही क्योंकि कुछ शिक्षक बीपीएससी से आए तथा कुछ शिक्षक अतिथि शिक्षक के रूप में नियुक्त हुए जिससे अब शिक्षकों की कमी नहीं रही।हाँ कमी है कि छात्र पढ़ने के लिए नही आते। कुलपति ने यह भी कहा कि हमने एकलव्य और तरंग प्रतियोगिताएं शुरू कराई तथा महात्मा गांधी की 125 वीं जयंती के अवसर पर जेपीयू के नाम पर जेपीयू वैज्ञानिक मानस समृद्धि दृष्टिकोण का कोर्स शुरू कराने का प्रयास किया जिसमें लोगों को यह बताना था कि जादू टोने भूत प्रेत इत्यादि कुछ होते नहीं। इसको वैज्ञानिक तरीके से बताने का काम किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि जयप्रकाश विश्वविद्यालय में हमने यह प्रयास किया है कि एमबीए ,बीसीए, बीबीए ,एमसीए ,पत्रकारिता, एलएसडब्ल्यू,लॉ जैसे कुल 8 विषयों को शुरू कराया जाए, जिस पर मैंने काफी कार्य कर दिया है और आने वाले कुलपति को इसमें सुविधा होगी। कुलपति ने यह भी कहा कि जयप्रकाश विश्वविद्यालय में जयप्रकाश जी की प्रतिमा स्थापना के लिए मैंने प्लेटफार्म तैयार करा दिया एवं उनकी मूर्ति भी मंगा कर के रखी है। इस पर मैं संतोष अनुभव करता हूं कि कम-से-कम विश्वविद्यालय परिसर में उनकी मूर्ति तो स्थापित हो जाएगी। उन्होंने कहा कि जेपी की मूर्ति स्थापना हमारे जाते-जाते हमारे लिए संतोष होगा कि मैंने यह भी कार्य कराया। फिर उन्होंने डिग्रियों की छपाई पर कहा कि पहले ₹55 एक डिग्री की छपाई में लगते थे 20000 विद्यार्थियों के डिग्री छपवाने में एक करोड़ से ज्यादा का खर्च होता था ।अब मात्र एक डिग्री मात्र ₹4 .80 में छपती है ।इसके साथ ही 100 छात्राएं एवं 100 छात्रों के लिए होस्टल निर्माण के लिए भी मैंने कार्य किया है।

छात्र संघ चुनाव के बारे में कुलपति डॉ हरिकेश सिंह ने कहा कि पहले के छात्रसंघ चुनाव को विधायक के उपचुनाव के कारण स्थगित करना पड़ा क्योंकि विश्वविद्यालय एरिया में यदि इस तरह के चुनाव होते हैं तो छात्र संघ के चुनाव को नहीं कराया जा सकता। अभी के चुनाव के स्थगित करने के बारे में उन्होंने बताया कि जिन 44 बिंदुओं का हवाला दिया गया और जो हमारे ऊपर दबाव बनाया गया उस दबाव के सामने में झुकने वाला नहीं था। हमारे ऊपर बहुत ज्यादा राजनीतिक दबाव डाला गया लेकिन मैंने चुनाव राजनीतिक दबाव से स्थगित नहीं किया। विश्वविद्यालय के एक बिंदु पर कमी रह गई थी जिसके चलते मैंने चुनाव स्थगित किया । उन्होंने छात्र संघ के बारे में भी कहा कि कहीं भी चुनाव प्रक्रिया में यह नहीं लिखा गया है कि मात्र स्कूटनी हो जाने से और एक ही उम्मीदवार के रहने से वह विजयी हो गया तथा मिठाई बांटना शुरू कर दिया यह सब चीज चुनाव प्रक्रिया में नही होती है।

कुलपति ने कहा कि आठ स्नातकोत्तर के विषयों को रेगुलर कराना है जिसके लिए मैंने कार्य कर दिया है और वो हो ही जाएगा अभी हमारा 13 दिन का कार्यकाल शेष है।
शोधार्थियों के बारे में प्रश्न करने पर की पाँच पाँच वर्षो से शोधार्थी भटक रहे हैं और उनके शोध पत्र पर कोई खास काम नहीं हो पा रहा है तो उन्होंने कहा कि जब कोई शोधार्थी हमसे भेंट करता है या मोबाइल वार्ता करता है तो उसकी फाइलें निकलवा कर मैं उसके ऊपर कार्य करवाता हूँ। उन्होंने स्पष्ट रूप से इस बात को स्वीकार किया कि शोध विभाग में कहीं न कहीं शोधार्थियों के साथ लूट खरसोट का मामला जरूर है। उन्होंने यह भी स्वीकार किया कि मैं 3 वर्षों से विश्वविद्यालय को समझने का प्रयास कर रहा हूँ।

यह पूछे जाने पर कि कुछ कर्मचारियों को नौकरी से बैठा दिया गया है और वे बाहर घूम रहे हैं ,तो इस पर कुलपति कन्नी काट गए और उन्होंने कहा कि जो मामला हाईकोर्ट में लंबित है उसके ऊपर मैं कुछ नहीं कहना चाहता हूँ।
इस प्रेस वार्ता में कुलपाति डॉ हरिकेश सिंह के साथ प्रतिकुलपति डॉ ए के झा,कुल सचिव कैप्टन कृष्ण कुमार , परीक्षा नियंत्रक डॉ अनिल कुमार ,पी आर ओ डॉ राकेश प्रसाद एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

Amrita Mishra

Leave a Reply

Next Post

उद्यमियों ने नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में बांटे कंबल

Fri Jan 10 , 2020
उद्यमियों ने नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में बांटे कंबल श्रीनारद मीडिया ब्यूरो प्रमुख / सुनील मिश्रा वाराणसी (यूपी) वाराणसी/ रामनगर इंडस्ट्रियल एसोसिएशन के उद्यमियो ने उपायुक्त उद्योग चंदौली श्री गौरव मिश्रा के साथ नौगढ़ तहसील में नौगढ़ से लगभग 25 किलोमीटर अंदर नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के आदिवासी गांव शाहपुर ,जमसौती समेत […]
error: Content is protected !!