बिहार के वैशाली में पुलिस हिरासत में युवक की संदिग्ध मौत.

बिहार के वैशाली में पुलिस हिरासत में युवक की संदिग्ध मौत.

०१
WhatsApp Image 2023-11-05 at 19.07.46
PETS Holi 2024
previous arrow
next arrow
०१
WhatsApp Image 2023-11-05 at 19.07.46
PETS Holi 2024
previous arrow
next arrow

निजी नर्सिंग होम में प्रसूता की हुई मौत, परिजनों ने किया हंगामा.

ठोकर से सड़क किनारे पलटा ऑटो, आधा दर्जन परीक्षार्थी घायल.

श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क

बिहार के वैशाली से बड़ी खबर। पुलिस हिरासत में युवक की संदिग्ध मौत से महकमे में हड़कंप मच गया है। युवक के गले में फंदे का निशान मिला है। पिता और पत्नी से मारपीट के मामले में चेहराकलां के कटहरा ओपी पुलिस ने युवक को गिरफ्तार किया था। मृतक की पहचान अमरजीत चौधरी के रूप में हुई है। इधर घटना में एसपी ने कहा कि कटहरा थाना में हुई घटना की होगी जांच।

पटना में हिरासत में मौत पर बवाल, थाना परिसर में खड़ी कई गाड़ियां क्षतिग्रस्त
इससे पहले जनवरी 2021 में राजधानी पटना में हिरासत में पकड़े गए आरोपी धर्मेंद्र माझी की मौत हो गई थी। घटना के बाद लामबंद होकर ग्रामीण हाईवे पर उतर पड़े। इसके बाद टायर जलाकर आगजनी की और हाईवे जाम कर दिया। यही नहीं आक्रोशित लोगों ने गौरीचक थाने का घेराव कर रोड़ेबाजी की। इसके चलते थाना परिसर में खड़ी कई गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गईं। पुलिसकर्मी जगह जगह छिप गये। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए कई थानों की फोर्स और आरएफ के जवानों को मुस्तैद किया गया था। परिजनों का कहना था कि पुलिस की पिटाई से धर्मेंद्र माझी की मौत हुई है।

अवैध नर्सिंग होम संचालकों पर नकेल कसने की सरकारी कवायद अररिया में पूरी तरह फ्लॉप साबित हो रही है। इसी का नतीजा है कि गैर मानक वाले नर्सिंग होम में अक्सर मरीजों की मौत होती है और इसके बाद मैनेज का खेल शुरू होता है। फिर दे ले कर मामले को रफा-दफा कर दिया जाता है। ऐसा ही एक मामला सोमवार को सामने आया है। जिम्मेदारों के नाक के नीचे सदर अस्पताल के सामने एक निजी नर्सिंग होम में ऑपरेशन करने के बाद प्रसूता की मौत हो गई। मौत के बाद मृतक के परिजनों ने निजी नर्सिंग होम के बाहर हंगामा करना शुरू कर दिया। नर्सिंग होम के कथित दलालों के द्वारा मृतक के परिजनों को मैनेज कर शव को घर भिजवा दिया। जानकारी के अनुसार पलासी प्रखंड के धर्मगंज निवासी नरेश मंडल की पत्नी वंदना देवी को प्रसव के लिए रविवार को सदर अस्पताल के सामने एक नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया था। यहां नर्सिंग होम के चिकित्सकों ने ऑपरेशन की सलाह दी।

रानीगंज-भरगामा मार्ग में रहड़िया चौक के समीप सोमवार की शाम एक अनियंत्रित ऑटो ने परीक्षार्थियों से भरा दूसरे ऑटो को पीछे से जबर्दस्त ठोकर मार दी। इस घटना में ऑटो सड़क किनारे पलट गई। इससे इस पर सवार आधा दर्जन परीक्षार्थी गंभीर रूप से घायल हो गये। घटना के बाद स्थानीय लोगों की घायलों को इलाज के लिए रानीगंज रेफरल अस्पताल लाया गया जहां पर प्राथमिक उपचार के बाद चार परीक्षार्थियों को बेहतर इलाज के लिए अररिया रेफर कर दिया गया। वहीं दो परीक्षार्थी का रेफरल अस्पताल में इलाज करवाया गया। इस बीच रानीगंज रेफरल अस्पताल में खून से लथपथ परीक्षार्थियों की स्थिति देख मौके पर कुछ देर के लिए अफरातफरी का माहौल हो गया। घटना को लेकर मिली जानकारी अनुसार भरगामा थाना क्षेत्र के बिरनगर पंचायत के वार्ड संख्या आठ निवासी मो असलम, वार्ड संख्या सात निवासी मो जनरुल की पुत्री जीनत प्रवीण, मजरेही वार्ड संख्या दस निवासी मो तबारक के पुत्र मो नैय्यर, पूर्णिया जिला के बनमनखी अंतर्गत जोगीगंज निवासी मो मुस्लिम की पुत्री सहेजता प्रवीण, सहना खातून व मो मुस्तकीम परीक्षा देकर एक ऑटो से लौट रहे थे।

 

Leave a Reply

error: Content is protected !!