छाटने की अनुमति लेकर काट डाला पूरा हरा पेड़

छाटने की अनुमति लेकर काट डाला पूरा हरा पेड़

@ पुष्कर तालाब पर वर्षो पुराना नीम का पेड़ से लोगों को गर्मी से दिलाता था राहत

श्रीनारद मीडिया ब्यूरो प्रमुख सुनील मिश्रा वाराणसी (यूपी)

वाराणसी/ प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा प्रदेश को हरा •ारा व प्रदूषण मुक्त करने के लिये पूरे प्रदेश में बृक्षारोपड़ अभियान चलाकर प्रदेश के सभी जिलों को हरा•भरा करने का अभियान चलाया जा रहा है, वहीं दूसरी तरफ वाराणसी नगर निगम का उद्यान विभाग हरा पेड़ काटने के अपने दूसरे अभीयान में लगा हुआ है। वहीं दूसरी तरफ नगर निगम के उद्यान विभाग के कर्मचारियों ने पुष्कर तालाब पर स्थित एक नीम के हरे भरे पेड़ को छाटने की अनुमति पर उसको पूरा काट कर उसकी बली ही चढ़ा दी। जानकारी के अनुसार पुष्कर तालाब पर बचानू चौहान का मकान है। मकान के पहली मंजिल के बरामदे में नीम की पेड़ की एक डाली के जाने से घर में परेशानी हो रही थी। इसपर बचानू चौहान ने नगर निगम के उद्यान विभाग से पेड़ की डाली को छाटने के लिये लिखित प्रार्थना पत्र दिया था। इसपर उद्याान वि•ााग ने पेड़ की डाली को छाटने के लिये उद्यान विभाग के कर्मचारी शिवचरण मौर्य के साथ कर्मचारियों को •ोजा। शिवचरण मौर्य के साथ पेड़ की डाली छाटने पहुंचे कर्मचारी पेड़ की डाली छाटते-छाटते पेड़ के आधा हिस्सा ही पूरी तरह से काट दिया। इस दौरान वहां पर मौजूद नागरिका ने इसका विरोध भी किया लेकिन उद्यान विभगग के कर्मचारी नहीं माने और देखते ही देखते नीम के हरे पेड़ को ही पूरी तरह से काट दिया। जागृति फाउण्डेशन के महासचिव रामयश मिश्र ने पेड़ के काटने पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि एक तरफ प्रदेश सरकार बृक्षरोपण अभीयान चलाकर लाखों पेड़ लगाने का प्रयास कर रही है वहीं दूसरी तरफ वर्षो पुराने एक पेड़ को काट डाला गया। उन्होनें कहा कि गर्मी के दिनों में चिलचिलाती धूप से बचने के लिये राहगीर इस नीम के पेड़ के नीचे रूककर थोड़ी देर आराम करते थे। वर्षो पुराना यह पेड़ आसपास के लोगों को भी कड़ी धूप छांव देकर गर्मी से निजात दिलाता था। रामयश मिश्र ने नगर आयुक्त से उद्यान विभगग के कर्मचारियों पर कार्रवाई करने की मांग की है।

Leave a Reply