वो खिलाड़ी जो बना आजाद भारत का पहला कप्तान, सबसे पहले जड़ा था टेस्ट शतक

वो खिलाड़ी जो बना आजाद भारत का पहला कप्तान, सबसे पहले जड़ा था टेस्ट शतक.

श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क

जन्मदिवस पर विशेष

वैसे तो हर खिलाड़ी जो देश के लिए खेलता है उसके लिए गर्व की बात होती है, लेकिन भारतीय टीम में बहुत कम ऐसे खिलाड़ी हुए हैं, जिनका नाम आज भी अदब के साथ लिया जाता है। कई दशक के बाद भी इन खिलाड़ियों को भारतीय क्रिकेट में पूजनीय माना जाता है। उन्हीं में से एक खिलाड़ी थे लाला अमरनाथ, जिनके नाम कई ऐसे कीर्तिमान दर्ज हैं, जो चाहते हुए भी कोई खिलाड़ी अपने नाम नहीं कर सकता।

11 सितंबर 1911 को पंजाब के कपूरथला में जन्मे नानिक अमरनाथ भारद्वाज कब लाला अमरनाथ बन गए पता ही नहीं चला। आजाद भारत के पहले कप्तान बनने के बाद लाला अमरनाथ ने भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाइयों पर ले जाने का काम किया। टीम इंडिया के लिए दो दर्जन टेस्ट मैच खेलने वाले लाला अमरनाथ इकलौते ऐसे गेंदबाज रहे जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट के सबसे महान खिलाड़ी सर डॉन ब्रैडमैन को हिट विकेट आउट किया था।

आजाद भारत के पहले कप्तान

लाला अमरनाथ के नाम भारत के लिए सबसे पहले टेस्ट शतक जड़ने का रिकॉर्ड भी दर्ज है। इसके अलावा बतौर कप्तान लाला अमरनाथ ने भारत को पाकिस्तान के खिलाफ पहली टेस्ट सीरीज जिताई थी। सीके नायडू, महाराजकुमार और इफ्तिकार अली खान पटौदी भी भारतीय टीम के कप्तान रह चुके थे, लेकिन साल 1947 में मिली आजादी के बाद जिस खिलाड़ी को टीम इंडिया की कमान मिली उनका नाम था लाला अमरनाथ।

साल 1947 में अखंड भारत के दो टुकड़े हुए। एक बना भारत और दूसरा बना पाकिस्तान। देश के बंटवारा होने के कई साल बाद जैसे-तैसे हालात दोनों देशों के बीच सामान्य हुए। आजाद भारत होने के बाद भारतीय टीम ने पहली बार अपने पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान से ही अपने यहां साल 1952 में टेस्ट क्रिकेट खेली। लाला अमरनाथ के नेतृत्व में खेली पांच मैचों की सीरीज में टीम इंडिया ने पाकिस्तान को 2-1 से हराया था।

पहले ही टेस्ट में जड़ा था शतक

दाएं हाथ के बल्लेबाज लाला अमरनाथ ने 15 दिसंबर 1933 को अपने करियर के पहले ही टेस्ट मैच में शतक जड़ा था। इंग्लैंड के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट मैच में लाला अमरनाथ ने मैच की दूसरी पारी में शतक जड़ा था। ये मुकाबला मुंबई(तब बॉम्बे) के ओल्ड जिमखाना स्टेडियम में खेला गया था। लाला अमरनाथ ने 21 चौकों की मदद से 118 रन की पारी खेली थी। हालांकि, मैच को इंग्लैंड की टीम ने जीता था।

लाला अमरनाथ उस दौर के स्टाइलिश बल्लेबाज तो थे ही साथ ही साथ वे आक्रमक गेंदबाज के लिए जाने जाते थे। एकदम सटीक लाइन लेंथ से गेंदबाजी करने में मशहूर लाला अमरनाथ इकलौते गेंदबाज थे, जिन्होंने ऑस्ट्रेलियाई टीम के सबसे महान खिलाड़ी डॉन ब्रैडमैन को साल 1947 में हिटविकेट आउट किया था। अपने करियर में कुल 70 बार आउट होने वाले डॉन ब्रैडमैन केवल एक बार ही हिटविकेट आउट हुए थे।

लाला अमरनाथ ने भारत के लिए कुल 24 टेस्ट मैच खेले, जिसमें उन्होंने पहले ही टेस्ट मैच में शतक जड़ा था और आखिर तक वे कोई और शतक नहीं जड़ पाए। एक शतक के अलावा लाला अमरनाथ के नाम चार अर्धशतक भी दर्ज हैं। लाला अमरनाथ ने 24 मैचों की 40 पारियों में 24.38 की औसत से कुल 878 रन बनाए थे। वहीं, बतौर गेंदबाज लाला अमरनाथ के नाम 45 विकेट भी दर्ज हैं। हालांकि, फर्स्ट क्लास क्रिकेट में लाला अमरनाथ के नाम 10 हजार से ज्यादा रन और 463 विकेट दर्ज हैं।

Leave a Reply