बनारस घराने को राज्य सरकार ने दिया सम्मान, पदम श्री राजेश्वर आचार्य बने प्रदेश संगीत नाट्य अकादमी के अध्यक्ष

बनारस घराने को राज्य सरकार ने दिया सम्मान, पदम श्री राजेश्वर आचार्य बने प्रदेश संगीत नाट्य अकादमी के अध्यक्ष

श्रीनारद मीडिया ब्यूरो प्रमुख / सुनील मिश्रा वाराणसी (यूपी)

वाराणसी / संगीत घराने के ध्रुपद गायक और जलतरंग वादन में महारत हासिल किए हुए विख्यात संगीतकार पद्मश्री डॉ राजेश्वर आचार्य को राज्य सरकार ने उत्तर प्रदेश संगीत नाट्य अकादमी का अध्यक्ष मनोनीत किया है। इस बात की जानकारी मिलते साथ ही बनारसी  संगीत घराने में ख़ुशी की लहार दौड़ गयी। पंडित राजेश्वर आचार्य के भदैनी स्थित घर पर बधाइयां देने वालों का तांता लगा हुआ है। भारत रत्न उस्ताद बिस्मिल्लाह खां हो या गिरजा देवी हो उनके संगीत को दुनिया कभी नहीं भुला सकती।इसी क्रम में बनारस संगीत घराने के पुरोधा के रूप में रुके हैं पंडित डॉक्टर राजेश्वर आचार्य इन्हें पदम श्री के बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने सम्मान से नवा जीते हुए उन्हें शनिवार को संगीत नाट्य अकादमी का अध्यक्ष बनाया गया है। पदम श्री डॉक्टर राजेश्वर आचार्य ने इसे बाबा विश्वनाथ और संकट मोचन भगवान का आशीर्वाद बताया।उन्होंने कहा कि भगवान ने मुझे मौका दिया है कि मैं संगीत के क्षेत्र में कुछ करूं और देश और दुनिया में प्रदेश और बनारस के संगीत और नाट्य कला का को शिखर पर ले जाऊ। बता दें कि संजीव आचार्य प्रोफ़ेसर राजेश्वर आचार्य सन 1967 में काशी हिंदू विश्वविद्यालय के कल्चर फैकल्टी के छात्रसंघ पदाधिकारी थे। इसके अलावा ऑल इंडिया रेडियो कंपटीशन में उन्होंने सर्वोच्च अंक प्राप्त किया है। गोरखपुर यूनिवर्सिटी से म्यूजिक एंड फाइन आर्ट्स के हैंड के रूप में कार्य किया। प्रोफ़ेसर राजेश्वर आचार्य ध्रुपद गायक और जल तरंग वादन में महारत हासिल किए हुए हैं विख्यात संगीतकार है। केंद्र सरकार ने पंडित राजेश्वर आचार्य को 25 जनवरी 2019 में पदम श्री पुरस्कार से सम्मानित किया था।

Leave a Reply