डब्ल्यूएचओ और यूनिसेफ ने कहा, पोलियो मुक्त बना हुआ है भारत

डब्ल्यूएचओ और यूनिसेफ ने कहा, पोलियो मुक्त बना हुआ है भारत

श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क

सरकारी टीकाकरण कार्यक्रम के दौरान ओरल वैक्सीन में टाइप-2 पोलियो वायरस मिलने से मचे हड़कंप के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) और यूनिसेफ ने भारत को पोलिया मुक्त करार दिया है।

दोनों शीर्ष अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं ने सरकारी टीकाकरण कार्यक्रमों को क्लीनचिट देते हुए कहा कि भारत पोलियो मुक्त बना हुआ है। सरकारी टीकाकरण कार्यक्रमों में इस्तेमाल हो रहे सभी वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित हैं।

गुरुवार को दोनों संस्थाओं की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि बच्चों को पोलियो वायरस ग्रस्त टीका देने के मामले में भारत में न्यूनतम हैं। इनका कहना है कि भारत में बच्चे को दिए जा रहे पोलियो के टीके पूरी तरह सुरक्षित हैं। लोग बेखौफ होकर अपने बच्चों को टीका दिलवाएं और भारत को पोलियो मुक्त बनाए रखें।

अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं की ओर से जारी बयान में बताया गया, ‘ मार्च 2014 में भारत पोलियो मुक्त हो गया था। तीनों प्रकार के पोलियो वायरस को लेकर देश में पूरी सक्रियता है। पोलियो वायरस का आखिरी मामला देश में 13 जनवरी, 2011 को देखने को मिला था।’

बयान के अनुसार, टाइप-2 पोलियो वायरस से ग्रस्त वैक्सीन को पूरी दुनिया से खत्म कर दिया गया है। भारत में भी इस तरह की वैक्सीन अप्रैल 2016 में खत्म हो चुकी है। इसलिए घबराने की कोई जरूरत नहीं है। दोनों अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं का कहना है कि पोलियो वायरस ग्रस्त वैक्सीन को इसलिए पकड़ा जा सके, क्योंकि भारत में सरकारी टीकाकरण तंत्र बेहद मजबूत है।

 

Leave a Reply