बुलंद व्यक्तित्व के थे डॉक्टर त्रिभुवन नारायण सिंह

बुलंद व्यक्तित्व के थे डॉक्टर त्रिभुवन नारायण सिंह पेशे से थे चिकित्सक लेकिन सीवान में सांस्कृतिक और सामाजिक जीवंतता के बयार को बहाने में रही थी उनकी महत्वपूर्ण भूमिका 21 अप्रैल 2024 को डॉक्टर टी एन सिंह जी की तृतीय पुण्यतिथि पर विशेष आलेख ✍️डॉक्टर गणेश दत्त पाठक : श्रीनारद मीडिया,  सेंट्रल डेस्‍क: वे पेशे…

Read More

केदारनाथ धाम के वेदपाठी  भजन गायक मृत्‍युंजय हीरेमठ का असामयिक निधन 

केदारनाथ धाम के वेदपाठी  भजन गायक मृत्‍युंजय हीरेमठ का असामयिक निधन केदार नाथ धाम में गूंजते थे उनके भजन  यूट्यूब पर हैं लाखों फैंस, महज 31 की उम्र में चले गये अनंत यात्रा पर श्रीनारद मीडिया, सेंट्रल डेस्‍क: श्री केदारनाथ धाम में वेदपाठी का कार्य संभाल रहे मृत्युंजय हीरेमठ (31) का शुक्रवार शाम को असामयिक…

Read More

सियाह रात के सोनहला भोर होला आ गिरमिटिया एकर बेहतरीन उदाहरण बा- मनोज भावुक

सियाह रात के सोनहला भोर होला आ गिरमिटिया एकर बेहतरीन उदाहरण बा- मनोज भावुक श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क बिहार में पटना के रवीन्द्र भवन में साहित्य और संगीत से शाम सजी। बिहार की मिट्टी हमेशा अपने श्रम और प्रतिभा के लिए मशहूर रही है और इसी का उत्सव मनाने के लिए उपस्थित रहे अंतर्राष्ट्रीय स्तर…

Read More

अयोध्या में 500 वर्ष बाद रामनवमी का उल्लास

अयोध्या में 500 वर्ष बाद रामनवमी का उल्लास श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क राम नवमी पर्व आत्ममंथन और भीतर छिपे रावणों के अंत का पर्व है. यह केवल राम नाम हृदय में धारण कर व्यक्तिगत कामनाओं की पूर्ति का अनुष्ठान नहीं हो सकता. सामूहिक शक्ति संपन्न होने और राष्ट्र शत्रुओं के हनन की लक्ष्य पूर्ति का पर्व…

Read More

कांग्रेस ने आंबेडकर को लोकसभा चुनाव में दो बार क्यों हराया?

कांग्रेस ने आंबेडकर को लोकसभा चुनाव में दो बार क्यों हराया? आंबेडकर की समाज सुधारक वाली छवि कांग्रेस के लिए चिंता का कारण थी श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क भारतीय संविधान के मुख्य आर्किटेक्ट, दलितों (अनुसूचित जाति) का मसीहा, कानून का विशेषज्ञ, देश के पहले विधि और न्याय मंत्री के तौर पर देश याद करता है….

Read More

डॉ. भीमराव अंबेडकर सामाजिक समरसता के पुरोधा थे-अशर्फीलाल

डॉ. भीमराव अंबेडकर सामाजिक समरसता के पुरोधा थे-अशर्फीलाल  डॉक्टर अंबेडकर की 133वी जयंती मनाई जा रही है श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क यह उस समय की बात है जब देश में सामाजिक भेदभाव छुआछूत और असमानताएं व्यापक रूप से फैली हुई थी इस समय अंग्रेज सिपाहियों में राम जी सकपाल के बेटे रूप में भीमराव का…

Read More

एक ऐसे कथावाचक जिनके पास पत्नी के अस्थि विसर्जन तक के लिए पैसे नहीं थे …तब मंगलसूत्र बेचने की बात की थी।

एक ऐसे कथावाचक जिनके पास पत्नी के अस्थि विसर्जन तक के लिए पैसे नहीं थे …तब मंगलसूत्र बेचने की बात की थी। श्रीनारद मीडिया, स्‍टेट डेस्‍क: यह जानकर सुखद आश्चर्य होता है कि पूज्यनीय रामचंद्र डोंगरे जी महाराज जैसे भागवताचार्य भी हुए हैं जो कथा के लिए एक रुपया भी नहीं लेते थे 🙏 मात्र…

Read More

लोकसभा चुनाव में कुछ कर नहीं पाऊंगा-सुशील कुमार मोदी

लोकसभा चुनाव में कुछ कर नहीं पाऊंगा-सुशील कुमार मोदी सुशील कुमार मोदी छह माह से कैंसर से जूझ रहे है श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क लोकसभा चुनाव की उल्टी गिनती जारी है. चुनाव मैदान में उतरे प्रत्याशी प्रचार में लगे हैं, वहीं इसी बीच राज्यसभा के पूर्व सदस्य सुशील कुमार मोदी ने सोशल साइट एक्स पर…

Read More

चंदू के बलिदान को विचारों की घालमेल ने धूमिल किया.

चंदू के बलिदान को विचारों की घालमेल ने धूमिल किया. श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क सीवान के लाल व जेएनयू के पूर्व अध्यक्ष चन्द्रशेखर की 27वें पुण्यतिथि पर भाव पूर्ण श्रद्धांजली व्यक्त करता हूँ। नमन है उस विचारधारा के पुंज को, जिसने अंतिम समय तक अपने विचार को समाज में जीवंत रखा। चंदू आपकी याद सदैव…

Read More

महेन्द्र बाबू अपने छात्र जीवन से ही क्रान्तिकारी विचार से प्रभावित थे-डाॅ. ज्योत्स्ना प्रसाद

महेन्द्र बाबू अपने छात्र जीवन से ही क्रान्तिकारी विचार से प्रभावित थे-डाॅ. ज्योत्स्ना प्रसाद श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क भक्ति की अजस्र धारा को हम निर्गुण भक्ति-धारा और सगुन भक्ति-धारा में विभक्त कर देते हैं, पर दोनों का उद्देश्य एक ही है; ईश्वर की प्राप्ति। ठीक वैसे ही भारतीय स्वतंत्रता-संग्राम में गाँधीजी की अहिंसावादी विचार-धारा और…

Read More

गुरु जग्गी वासुदेव बिजनेसमैन से कैसे बने आध्यात्मिक गुरु

गुरु जग्गी वासुदेव बिजनेसमैन से कैसे बने आध्यात्मिक गुरु श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क सद्गुरु जग्गी वासुदेव एक आध्यात्मिक गुरु हैं. इन्हें आध्यात्मिक जगत में एक प्रमुख गुरु के रूप में पहचाना जाता है, जिन्होंने लाखों लोगों का मार्गदर्शन किया है. सद्गुरु जग्गी वासुदेव का जन्म मैसूर में 3 सितंबर 1957 की रात 11 बजकर 54…

Read More

पत्रकारिता जगत में राम का दर्शन होता रहेगा,कैसे?

पत्रकारिता जगत में राम का दर्शन होता रहेगा,कैसे? श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क कुछ लोग इस धारा पर आते हैं …अपना काम करते हैं और बस चुपके से निकल जाते हैं.. छोड़ जाते हैं अपनी यादें और अपने कर्म, जिसे वे अपना धर्म मानकर करते रहे हैं। उनके नहीं रहने पर यही कर्म याद किए जाते…

Read More

B.ed Course Closed: 2 वर्षीय और 4 वर्षीय बीएड कोर्स बंद, नोटिस जारी 

B.ed Course Closed: 2 वर्षीय और 4 वर्षीय बीएड कोर्स बंद, नोटिस जारी श्रीनारद मीडिया, स्‍टेट डेस्‍क: राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद की ओर से 5 फरवरी को B.Ed कोर्स बंद करने को लेकर आधिकारिक नोटिफिकेशन जारी किया गया है। नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन की ओर से जो नोटिफिकेशन जारी किया गया है!  जिसके तहत…

Read More

फणीश्वरनाथ रेणु हिंदी के बिरले कथाकार हैं,कैसे?

फणीश्वरनाथ रेणु हिंदी के बिरले कथाकार हैं,कैसे? श्रीनारद मीडिया सेंट्रल डेस्क आंचलिक उपन्यासों की अप्रतिम सर्जना की बिना पर कथा सम्राट प्रेमचंद की परंपरा को नयी पहचान दिलाकर ‘आजादी के बाद का प्रेमचंद’ कहलाने वाले फणीश्वरनाथ रेणु हिंदी के बिरले कथाकार हैं. आलोचकों द्वारा उन्हें उनके पहले उपन्यास ‘मैला आंचल’ के अलावा ‘परती परिकथा’ और…

Read More

बलिदान दिवस : चंद्रशेखर आजाद जो सदा आजाद रहे

बलिदान दिवस : चंद्रशेखर आजाद जो सदा आजाद रहे श्रीनारद मीडिया, सेंट्रल डेस्‍क: भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम के सेनानियों में चन्द्रशेखर आजाद का नाम सदा अग्रणी रहेगा। उनका जन्म २३ जुलाई, १९०६ को ग्राम माबरा (झाबुआ, मध्य प्रदेश) में हुआ था। उनके पूर्वज गाँव बदरका (जिला उन्नाव, उत्तर प्रदेश) के निवासी थे; पर अकाल के कारण…

Read More
error: Content is protected !!