होलिका दहन पर क्या करें और क्या न करें? नवविवाहित जोड़े ध्यान रखें यह बात

 होलिका दहन पर क्या करें और क्या न करें? नवविवाहित जोड़े ध्यान रखें यह बात

श्रीनारद मीडिया, सेंट्रल डेस्‍क:

पूरे देश में आज होलिका दहन है. आज रात में होली पूजा  की जाएगी और उसके बाद होलिका दहन होगा. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, होलिका दहन के साथ ही नकारात्मक शक्तियों का भी अंत हो जाता है. हालांकि होलिका दहन से पूर्व तक कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए क्योंकि तब तक नकारात्मक शक्तियों का प्रभाव रहता है. होलिका दहन के अवसर पर कुछ कार्यों को करने की मनाही होती है, तो कुछ कार्य सभी को करने की बात कही जाती है. आइए जानते हैं कि होलिका दहन पर क्या करें और क्या न करें.

 

होलिका दहन पर क्या करें
1. आज शाम के समय में होलिका पूजा में शामिल होना चाहिए.

2. होलिका दहन के समय आप अग्नि में गेहूं, मटर, और अलसी डालें. गेहूं की बालियां आग में सेंककर खाने से सेहत अच्छी रहती है.

website ads
website ads
previous arrow
next arrow
website ads
website ads
previous arrow
next arrow

3. होलिका दहन से पूर्व परिवार के सदस्यों को उबटन लगाना चाहिए. उसके अवशेष को होलिका की अग्नि में डाल देना चाहिए. धार्मिक मान्यता है कि ऐसा करने से नकारात्मकता दूर होती है और लोग निरोगी रहते हैं.

4. होलिका पूजा के समय में अपना मुख पूर्व या उत्तर दिशा में रखना चाहिए.

5. होलिका पूजा में शामिल होने से सुख, समृद्धि एवं शक्ति में वृद्धि होती है.

6. होलिका दहन पर अपनी रा​शि के स्वामी ग्रह से जुड़ी हुई वस्तुओं का दान करना चाहिए.

होलिका दहन पर क्या न करें
1. होलिका दहन के समय अपने सिर को खुला न रखें.

2. होलिका दहन वाले दिन सड़क पर पड़ी हुई वस्तुओं को नहीं छूना चाहिए क्योंकि इस दिन लोग तंत्र मंत्र के कार्य करते हैं.

3. होलिका दहन के दिन मांस, मदिरा का सेवन न करें.

4. आज के दिन काले या नीले रंग के वस्त्रों को पहनने से बचना चाहिए. इनको नकारात्मकता का प्रतीक मानते हैं.

5. जिनकी एक ही संतान हो, उनको होलिका दहन के लिए अग्नि प्रज्वलित नहीं करनी चाहिए.

6. जिन लोगों का विवाह सालभर के अंदर में हुआ होता है, उनको होलिका दहन की आग नहीं देखनी चाहिए. कहा जाता है कि होलिका अपने प्रेमी से फाल्गुन पूर्णिमा से विवाह करने वाली थी, लेकिन वह जलकर मर गई, जिससे उसका विवाह नहीं हुआ. इस वजह से नवविवाहित जोड़ों को होलिका दहन में शामिल होने से मना किया जाता है.

यह भी पढ़े

 होलिका दहन पर करें ये 7 आसान उपाय , नौकरी-विवाह की समस्याएं होगी दूर

पानापुर बीआरसी में शिक्षकों ने मनायी होली  

Raghunathpur: मध्य विद्यालय पतार की गुड़िया व रंजन ने जिला स्तरीय प्रतियोगिता में पाया प्रथम स्थान

आपकी साधना का असर दिख रहा था, बस आप नहीं दिख रहे थे गुरुजी…..

टड़वा परसा की अनुप्रिया ने इंटर विज्ञान की परीक्षा बेहतर अंक से पास कर नाम किया रौशन 

Raghunathpur: गौरा कुवर इंटर कॉलेज का छात्र अंशु दुबे ने इंटर परीक्षा में किया जिला टॉप

 

shrinarad media

Leave a Reply

Next Post

जानें कब खेली जाएगी रंग वाली होली, राशि अनुसार करें इन मंत्रों का जाप 

Thu Mar 17 , 2022
जानें कब खेली जाएगी रंग वाली होली, राशि अनुसार करें इन मंत्रों का जाप श्रीनारद मीडिया, सेंट्रल डेस्‍क: रंगों का त्योहार होली आने ही वाली है. यह पर्व बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक के रूप में मनाया जाता है. होली से एक दिन पहले होलिका दहन किया जाता […]
error: Content is protected !!