आरा में अपराधियों से दहशत, 10 घंटे के अंदर दो लोगों की गोली मारकर हत्या

आरा में अपराधियों से दहशत, 10 घंटे के अंदर दो लोगों की गोली मारकर हत्या

०१
WhatsApp Image 2023-11-05 at 19.07.46
PETS Holi 2024
previous arrow
next arrow
०१
WhatsApp Image 2023-11-05 at 19.07.46
PETS Holi 2024
previous arrow
next arrow

श्रीनारद मीडिया, स्‍टेट डेस्‍क:

बिहार के आरा में पुलिस की तमाम सुरक्षा व्यवस्था को चुनौती देते हुए जिले में अपराधियो ने तांडव मचाया है. महज 10 घंटे के अंदर दो हत्या से पुलिस की साख पर सवाल उठने लगे हैं. मंगलवार (21 मई) की अहले सुबह रिटायर्ड दारोगा के बेटे की हत्या के बाद उसका पोस्टमार्टम भी नहीं हुआ था, तब तक अपराधियों ने एक और युवक को मौत की नींद सुला दिया. दोनों घटना अगल-अलग थाना क्षेत्र की है.

रिटायर्ड दारोगा के बेटे की गोली मारकर हत्या देश में हो रहे लोकसभा चुनाव को लेकर लगे आदर्श आचार संहिता में भी अपराधियों ने सुरक्षा के तमाम दावों की पोल खोल दिया है. दो जगहों पर हुई दो युवकों की गोली मारकर हत्या जमीन विवाद में होने की बात सामने आई है. जानकारी के अनुसार पहली घटना मृतक उदवंतनगर थाना क्षेत्र के घोड़पोखर गांव निवासी सह रिटायर्ड दारोगा तेज नारायण यादव का 32 वर्षीय पुत्र पिंटू कुमार यादव है. मृतक के चचेरे भाई अशोक कुमार ने बताया कि उसने दवंतनगर थाना क्षेत्र के दरियापुर पुल के पास एक व्यक्ति से दस कट्ठा जमीन खरीदी थी, जिसको लेकर उसने उसे मोबाइल से अकाउंट पर और कैश मिलाकर कुल चौदह लाख रुपये दिए थे. इसके बाद उक्त युवक ने जमीन की नापी भी कर दी गई थी. इसी बीच सोमवार की रात जब वह अपने घर गोढ़ना रोड से बाइक पर सवार होकर अपने गांव घोड़पोखर जा रहा था, उसी समय उस युवक ने फोन कर उन्हें करवा गांव स्थित बगीचे में खाने-पीने को लेकर बुलाया. इसके बाद पिंटू कुमार यादव वहां पहुंचा. खाने-पीने के दौरान उस युवक ने जमीन ना लिखने और दिए गए पैसे भी नहीं लौटने की बात कही जाने लगी. जिसको लेकर उनके बीच कहासुनी हुई.

इसके बाद वह वहां से उठकर गांव आने के लिए बाइक स्टार्ट करने लगा, तभी उसे रोककर पीछे से उस युवक ने सिर में गोली मारकर हत्या कर दी.मृतक के चचेरे भाई अशोक कुमार ने नीरज चौधरी नामक युवक और उसके साथ रहने वाले अन्य साथियों पर अपने चचेरे भाई पिंटू कुमार यादव की गोली मारकर हत्या करने का आरोप लगाया है. आरोप में कहा गया है पिंटू कुमार से जमीन के लिए चौदह लाख रुपये लेने के बाद जमीन और पैसा देने से इनकार करने का विरोध करने पर उसे मारा गया है. वहीं घटना की सूचना मिलते ही मुफस्सिल थानाध्यक्ष राजीव रंजन सिन्हा पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच और शव को अपने कब्जे में लेकर उसका पोस्टमार्टम सदर अस्पताल में करवाया. पुलिस ने हत्या के बाद मृतक के परिजनों से मिलकर घटना की पूरी जानकारी ली, उसके बाद पुलिस त्वरित कार्रवाई करते हुए एक युवक को हिरासत में ले कर पूछताछ कर रही है. जमीन विवाद में गई युवक प्रिंस सिंह की जान वहीं, दूसरी घटना मंगलवार की अहले सुबह जिले के सिन्हा थाना क्षेत्र के कुंदरिया गांव की है. यहां भी एक युवक की गोली मार कर हत्या कर दी गई. युवक की पहचान नगर थाना क्षेत्र के मझौआ इलाके के कुंदरिया गांव निवासी हेमंत कुमार सिंह उर्फ टुनटुन सिंह के पुत्र प्रिंस सिंह के रूप में हुई है.

मृतक के मौसा हरेंद्र सिंह ने बताया कि गांव में अपने पाटीदार से 7 कट्ठा जमीन का विवाद पहले से चल रहा है उसी मामले को लेकर बड़हरा के पूर्व मंत्री एवम विधायक राघवेन्द्र प्रताप सिंह के यहां समस्या के समाधान के लिए जा रहा था, क्योंकि इसका विवाद लगातार बढ़ता जा रहा था. उसी दौरान मझौआ बांध के पास अपराधियों ने पीछा कर उसको गोली मार दी, जिससे उसकी घटनास्थल पर मौत हो गई. स्थानीय लोगों की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे परिजन उसको लेकर सदर अस्पताल पहुंचे. मृतक के मौसा हरेंद्र सिंह ने जमीनी विवाद में उसकी हत्या करने का आरोप लगाया है. घटना की सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम आरा सदर में करवाया. मिली जानकारी के मुताबिक मृतक वर्तमान में नगर थाना क्षेत्र के गौसगंज एरिया के शिव कॉलोनी में रहता था. इस मामले में भोजपुर एसपी नीरज कुमार सिंह ने शाम तक दोनों घटना में विस्तृत जानकारी देने की बात कही है.

यह भी पढ़े

मेरा कोई वारिस नहीं, आप ही मेरे वारिस हैं- पीएम मोदी

अग्रवाल समाज की बेटी स्वाति से गुंडागर्दी पर केजरीवाल, सुशील चुप क्यों : विशाल सिंगला 

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कुरुक्षेत्र लोकसभा से प्रत्याशी डॉ. सुशील गुप्ता के लिए मांगा जनसमर्थन 

हम बड़े मार्जिन से लोकसभा चुनाव जीत रहे हैं और जीतने के बाद किसी भी कीमत पर बीजेपी का साथ नहीं देंगे : अभय

सिंह चौटाला 

Leave a Reply

error: Content is protected !!